सैम पित्रोदा पर भड़के राहुल गांधी, कहा- तुम्हें शर्म आनी चाहिए

राहुल गांधी ने पंजाब में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, "सैम पित्रोदा ने 1984 दंगों के बारे में जो कहा वह पूरी तरह से गलत था और उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए."

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी के नेता सैम पित्रोदा की 1984 नरसंहार वाले बयान पर दी गई टिप्पणी को लेकर बीजेपी तो उनपर हमलावर ही है, वहीं अब कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अपने दल के नेता को फटकार लगाई है. राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि उन्हें अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए साथ ही उनको देश से माफी भी मांगनी चाहिए.

राहुल गांधी ने पंजाब के खन्ना में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, “सैम पित्रोदा ने 1984 (सिख विरोधी दंगों) के बारे में जो कहा वह पूरी तरह से गलत था और उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए. मैं यह सार्वजनिक रूप से कह रहा हूं और मैंने फोन पर भी उनसे यही कहा. पित्रोदा जी, आपने जो कहा था, वह पूरी तरह से गलत था और आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए. आपको सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.”

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी उस कार्यक्रम में उपस्थित थे, जहां राहुल गांधी ने कांग्रेस प्रत्याशी अमर सिंह के लिए वोट मांगते हुए पित्रोदा को फटकार लगाई. अमर सिंह फतेहगढ़ साहिब निर्वाचन क्षेत्र से एसएडी उम्मीदवार डी एस गुरु के खिलाफ चुनावी रण में कांग्रेस की ओर से उतारे गए हैं.

पीएम मोदी भी पित्रोदा के बयान को लेकर हमलावर हैं

मालूम हो कि सैम पित्रोदा के बयान पर बीजेपी ने कांग्रेस के खिलाफ आक्रामक रुख अपना रखा है. क्योंकि 1984 के सिख विरोधी दंगे पंजाब में एक भावनात्मक मुद्दा हैं और सूबे में 19 मई को चुनाव होने जा रहे हैं.

इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पित्रोदा के बयान को लेकर कांग्रेस पर अपना हमला तेज कर दिया है. पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश के रतलाम में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यह टिप्पणी विपक्षी दल के अहंकार को दर्शाती है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ‘हुआ तो हुआ’ केवल तीन शब्द नहीं हैं बल्कि कांग्रेस के अहंकार को दर्शाते हैं. जब वे (कांग्रेस नेता) “हुआ तो हुआ” कह रहे थे, देश के लोग कह रहे थे “बहुत हुआ तो बहुत हुआ.”

ये भी पढ़ें: PM मोदी को टीवी पर राहुल गांधी से मिला तीन गुना ज्यादा समय