सीता हरण वाले बयान पर जावेद अख्तर के खिलाफ कोर्ट में याचिका, 24 मई को होगी सुनवाई

बुर्के और घूंघट विवाद में भी जावेद अख्तर ने बयान दिया था जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोग उन पर भड़क रहे हैं.

नई दिल्ली: मशहूर गीतकार जावेद अख्तर अक्सर किसी न किसी विवाद से घिरे रहते हैं. चाहे वो कन्हैया कुमार का प्रचार को लेकर हो या फिर बुर्का और घूंघट को लेकर. लेकिन इस बार मामला कानून की शरण में जा पहुंचा है. भोपाल से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर के समर्थकों ने जावेद अख्तर के खिलाफ मानहानि परिवाद याचिका दायर करवाई है.

कुछ दिनों पहले ही जावेद अख्तर ने भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था कि सीता हरण करने भी रावण साधू के भेष में आया था, इसलिए भोपाल की जनता साधुओं से बच कर रहे . जावेद अख़्तर के इसी बयान से दुखी होकर समर्थकों ने कोर्ट में याचिका दर्ज करवाई है. अदालत इस मामले की सुनवाई 24 मई को करेगा.

जावेद अख्तर इन दिनों कई राजनीतिक मसलों को लेकर लोगों के निशाने पर हैं. कुछ दिनों पहले बेगूसराय में सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार का समर्थन करने जावेद अख्तर गए थे. इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी भी मौजूद थी. दोनों ने कन्हैया के लिए वोट मांगे थे. इसके अलावा बुर्के और घूंघट विवाद में भी जावेद अख्तर ने बयान दिया था जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोग उन पर भड़क रहे हैं.