‘पिछली बार ग्रैजुएट थे, इस बार इंटर पास’, गोरखपुर से रवि किशन की उम्‍मीदवारी मुश्किल में

रवि किशन को बीजेपी ने गोरखपुर संसदीय क्षेत्र से उम्‍मीदवार बनाया है. 2014 में वे कांग्रेस टिकट पर जौनपुर से लड़े थे.

नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश के गोरखपुर से भाजपा प्रत्‍याशी रवि किशन की दावेदारी मुश्किल में पड़ सकती है. गोरखपुर के निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की गई है कि रवि किशन ने लोकसभा चुनावों के नामांकन के दौरान दाखिल हलफनामों में हेरफेर किया है. आरोप है कि गोरखपुर से नामांकन में रवि किशन ने जो हलफनामा दिया है, उसमें अपनी शैक्षिक योग्‍यता इंटरमीडिएट बताई है.

शिकायतकर्ता का कहना है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जौनपुर से पर्चा भरते समय रवि किशन ने खुद को 1992-93 में रिजवी कॉलेज ऑफ साइंस एंड कॉमर्स, मुंबई से बी.कॉम पास दिखाया था. 2019 के हलफनामे में भोजपुरी फिल्मों के अभिनेता रवि किशन ने शैक्षिक संस्‍थान का नाम तो वही रखा है, मगर योग्‍यता बी.कॉम की जगह 12वीं बताई है. 12वीं पास करने का साल 1990 बताया गया है.

शैक्षिक योग्‍यता पर स्‍मृति ईरानी भी घिरीं

BJP के कई उम्‍मीदवारों के खिलाफ चुनावी हलफनामे में झूठी जानकारी देने की शिकायतें हैं. केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी पर 2004 से विभिन्न चुनावों में विरोधाभासी जानकारी जमा करने का आरोप है. अमेठी से 2019 में अपने चुनावी हलफनामे में स्‍मृति ने घोषणा की थी कि वे स्‍नातक नहीं हैं. ईरानी ने अपने हलफनामे में कहा था कि उन्होंने 1991 में हाईस्‍कूल परीक्षा पास की थी और 1993 में इंटरमीडिएट परीक्षा पास की थी.

ईरानी के फॉर्म में सर्वोच्च शैक्षिक योग्यता की श्रेणी में लिखा गया है – दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निग से बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1, और ब्रैकेट में लिखा है तीन साल का डिग्री पाठ्यक्रम अपूर्ण. ईरानी ने 2004 में दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था और उन्होंने दावा किया था कि उन्होंने पत्राचार के जरिए 1996 में आर्ट्स में बैचलर की डिग्री पूरी की थी.

वहीं, आम आदमी पार्टी (आप) की पूर्वी दिल्ली की उम्मीदवार आतिशी ने भाजपा के उम्मीदवार गौतम गंभीर के खिलाफ दो वोटर कार्ड रखने का मामला दर्ज कराया था. आरोप है कि गंभीर के पास दिल्ली के दो अलग-अलग क्षेत्रों -करोल बाग और राजेंद्र नगर- से दो अलग-अलग वोटर कार्ड हैं.

ये भी पढ़ें

मेरे पैर पकड़ कर कसमें खाने वाले आज मेरी मां के खिलाफ लड़ रहे हैं: प्रियंका गांधी

NaMo TV पर अक्षय कुमार की ये दो फिल्‍में दिखाना चाहती है BJP