MTNL इंजीनियर रह चुके अरविंद सावंत शिवसेना कोटे से होंगे मोदी कैबिनेट में शामिल

सावंत ने महानगर टेलीफोन नेटवर्क लिमिटेड (एमटीएनएल) में 1995 तक इंजीनियर के तौर पर कार्य किया और 1995 में शिवसेना-भाजपा सरकार के सत्ता में आने के बाद राज्यपाल कोटे से महाराष्ट्र विधान परिषद में नामित होने के बाद स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली.

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी आज लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के लिए शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में शपथ लेंगे. इससे पहले मोदी कैबिनेट में शामिल होने वाले नेताओं के नाम को लेकर मीडिया की गलियों में कई ख़बरें तैर रही हैं. हालांकि अभी तक आधिकारिक रूप से सिर्फ शिवसेना ने ही अरविंद सावंत के नाम पर मुहर लगाई है.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने एएनआई से बात करते हुए स्पष्ट किया है कि उनकी पार्टी की तरफ से अरविंद सावंत का नाम दिया गया है जो मोदी कैबिनेट में शामिल होंगे.

संजय राउत ने कहा कि बीजेपी की तरफ से एक नेता का नाम मंत्रिमंडल में शामिल करने के लिए मांगा गया था जिसके बाद हमारी तरफ से अरविंद सावंत का नाम दिया गया.

अरविंद सावंत अनंत गीते का स्थान लेंगे जो कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकार में शिवसेना के एकमात्र मंत्री थे. गीते पिछले महीने हुए लोकसभा चुनाव में रायगढ़ से हार गए थे. 68 वर्षीय सावंत ने कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा को 1,00,067 वोटों से हराया था. सावंत शुरुआती दिनों से ही शिवसेना पार्टी से जुड़े हैं.

सावंत ने महानगर टेलीफोन नेटवर्क लिमिटेड (एमटीएनएल) में 1995 तक इंजीनियर के तौर पर कार्य किया और 1995 में शिवसेना-भाजपा सरकार के सत्ता में आने के बाद राज्यपाल कोटे से महाराष्ट्र विधान परिषद में नामित होने के बाद स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली.

सावंत स्थानीय निकाय निर्वाचन क्षेत्र से पार्षद चुने गए. उन्होंने 2014 में लोकसभा चुनाव पहली बार लड़ा और तत्कालीन सांसद देवड़ा को मुंबई दक्षिण सीट पर 1,28,564 वोटों से हरा दिया.सावंत शिवसेना के उप नेता और एमटीएनएल ट्रेड यूनियन के अध्यक्ष भी हैं.

इससे पहले कहा जा रहा था कि शिवसेना की तरफ से मंत्रिमंडल के लिए दो नाम-अनिल देसाई और संजय राउत के नाम दिए गए हैं, दोनों राज्यसभा सदस्य हैं.

इसके अलावा अन्य दावेदारों में दक्षिण मुंबई के सांसद अरविंद सावंत, यवतमाल-वाशिम की सांसद भावना गवली, रत्नागिरि-सिंधुदुर्ग के सांसद विनायक राउत, बुलधाना के सांसद प्रताप जाधव और ठाणे के सांसद राजन विचारे माने जा रहे थे. हालांकि अंतिम समय में अरविंद सावंत का नाम सामने आया है.