जीत सिर्फ मोदी की हुई, इस्तीफा देने के बजाए खुद को साबित करें राहुल गांधी: रजनीकांत

रजनीकांत का कहना है कि पीएम मोदी उन करिश्माई नेताओं में से हैं, जो कि लोगों को आसानी से अपनी ओर आकर्षित कर लेते हैं.

मुंबई: अभिनेता से राजनेता बने साउथ फिल्म इंडस्ट्री के सुपरस्टार रजनीकांत ने मंगलवार को लोकसभा चुनाव के परिणाम को एक व्यक्ति विशेष की जीत बताया. उन्होंने कहा कि यह जीत केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हुई है और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी की हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपना इस्तीफा देने की जरूरत नहीं है.

मीडिया से बात करते हुए रजनीकांत ने कहा कि 2019 के आम चुनाव में जीत सिर्फ मोदी की हुई है. रजनीकांत ने कहा, “जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी के बाद मोदी ही हैं जो लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने वाले करिश्माई नेता हैं.”

इसके बाद उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में मोदी-विरोधी लहर थी और विभिन्न औद्योगिक परियोजनाएं, जिन्हें लागू किए जाने की योजना बनाई जा रही है, उनके खिलाफ मुहिम चलाए जाने की वजह से राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को हार नसीब हुई.

कांग्रेस अध्यक्ष पर बात करते हुए कहा, “आम चुनाव के दौरान राहुल बहुत मजबूती से लड़े और उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी, लेकिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने समन्वित तरीके से काम नहीं किया. इसके लिए राहुल गांधी को इस्तीफा देने की जरूरत नहीं है और उन्हें साबित करना चाहिए कि वे कर सकते हैं.”

वहीं रजनीकांत ने बताया कि वे 30 मई को केंद्र में फिर से सत्ता में आई बीजेपी की सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेंगे.