बिहार का ये MP कैश लेकर संसद में उठा सकता है कोई सवाल, कहते हैं राजनीति में कोई सेवा धर्म नहीं

बिहार के ये महाशय अब तक पांच बार चुनाव जीत कर संसद पहुंच चुके हैं और अपनी एक अलग पार्टी जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक बना कर 2019 के चुनावी दंगल में कूद चुके हैं.
Sting opeation of Bihar MP Rajesh Ranjan Pappu Yadav, बिहार का ये MP कैश लेकर संसद में उठा सकता है कोई सवाल, कहते हैं राजनीति में कोई सेवा धर्म नहीं

TV9 भारतवर्ष के सबसे बड़े और सनसनीखेज स्टिंग ऑपरेशन में बात उस सांसद की जिसे अब तक आप बाहुबली के तौर पर जानते हैं. आज भी इनकी दबंगई के डर से इलाके के लोग कांपते हैं. इस सांसद पर हत्या जैसे संगीन अपराध का मुकदमा चल चुका है.

जी हां हम बात कर रहे हैं बिहार के सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की. ये अब तक पांच बार चुनाव जीत कर संसद पहुंच चुके हैं और अपनी एक अलग पार्टी जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक बना कर 2019 के चुनावी दंगल में कूद चुके हैं.

पहली बार लोक सभा चुनाव 1991 में जीता, उसके बाद 1996, 1999 और 2004 में भी अलग अलग चुनाव क्षेत्रों से एसपी, एलजेपी और आरजेडी पार्टी से चुनाव जीते. यही नहीं पप्पू यादव 2015 के बेस्ट परफॉर्मिंग सासंद भी हैं.

टीवी 9 भारतवर्ष की स्पेशल इंवेस्टिगेटिंग टीम के हमारे साथी उमेश पाटिल, कुलदीप शुक्ला, राम कुमार, अभिषेक कुमार और बृजेश तिवारी ने इस सांसद के असलियत से पर्दा उठाया है.

Sting opeation of Bihar MP Rajesh Ranjan Pappu Yadav, बिहार का ये MP कैश लेकर संसद में उठा सकता है कोई सवाल, कहते हैं राजनीति में कोई सेवा धर्म नहीं

पप्पू यादव ने इस दौरान अपनी पत्नी का नाम लेते हुए यह भी बताया कि वो कांग्रेस सांसद हैं और जो भी चाहें मदद कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि ‘चुनाव के बाद हमारी हैसियत बढ़ने वाली है.’

जब उनसे चुनाव में बजट के खर्चे को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ‘2014 लोकसभा चुनाव में उनका खर्च 3.5 करोड़ से 5 करोड़ के बीच है.’ वहीं पत्नी रंजीता रंजन का 7-8 खर्च करोड़ खर्च हुआ था जबकि चुनाव आयोग को 47 लाख रुपये खर्च का ब्यौरा दिया.

उन्होंने माना कि नोट के दम पर ग़रीबो का फ़ायदा उठाया. पप्पू यादव ने कहा कि ‘आदमी किसी का नहीं होता कुछ भी कर लो. राजनीति का मतलब सेवा-धर्म नहीं दोगलई है. जितना अधिक दोगलई-तेगलई करोगे उतनी अच्छी राजनीति कर सकोगे. काटोगे नफ़रत पैदा करोगे.’

वहीं जब हमारे अंडरकवर रिपोर्टर ने पूछा कि सबसे अधिक खर्च कैश बांटने में होता है? जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि ‘अभी हम जितना खर्च करेंगे उतना अधिक फ़ायदा होगा. वहीं बांटने में खर्च को लेकर पप्पू यादव ने कहा लगभग 2-2.5 करोड़ तक का खर्च आएगा. पर्सन टू पर्सन ग़रीबों को और यूथ को बांटना होता है.’

वहीं चुनाव कैंपेन में ट्रेवलिंग पर खर्च को लेकर पप्पू यादव ने बताया कि ‘एक से सवा करोड़ रुपये खर्च हो जाता है. हालांकि रैलियों का खर्च अलग होता है सिर्फ हैलीकॉप्टर पर 1 करोड़ के लिए खर्च होता है. 2019 में लगभग 8 करोड़ रुपये खर्च कर जीतने का इरादा है.’

इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में भले ही शराबबंदी हो लेकिन उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्होंने कहा इसके बिना तो काम ही नहीं चलता.

पप्पू यादव बार-बार अपनी पत्नी कांग्रेस सांसद रंजीता रंजन को भी फंडिंग करने की मांग कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर हर महीने 10-12 लाख़ रुपये खर्च होता है.

इतना ही नहीं रथ यात्रा निकालने के लिए एक से डेढ़ करोड़ रुपये की अलग से भी मांग की. उन्होंने यह भी बताया कि उनकी मां भी लोकसभा चुनाव लड़ सकती है. इसलिए कुल तीन सांसदों की फंडिंग का प्रबंध करें.

Sting opeation of Bihar MP Rajesh Ranjan Pappu Yadav, बिहार का ये MP कैश लेकर संसद में उठा सकता है कोई सवाल, कहते हैं राजनीति में कोई सेवा धर्म नहीं

और पढ़ें- स्टिंग में खुलासा- BJP सांसद उदित राज ने पिछले चुनाव में उड़ाए 5 करोड़, कहा- नोटबंदी से मची तबाही

आइए जानते हैं क्या है खुलासा

खुलासा नंबर- 1

चुनावी फंडिंग के बदले हर मदद

खुलासा नंबर- 2

5 करोड़ रुपये में लड़ा 2014 चुनाव

खुलासा नंबर- 3

राजनीति में कोई सेवा धर्म नहीं

खुलासा नंबर-4

वोटर्स में बांटता हूं 2.5 करोड़ कैश

खुलासा नंबर- 5

2019 चुनाव में लगेंगे8 करोड़

खुलासा नंबर- 6

बैन के बावजूद बांटता है शराब

खुलासा नंबर- 7

कैंपन के लिए चाहिए रथ, हैलीकॉप्टर

खुलासा नंबर- 8

सांसद निवास पर करो कैश की डिलीवरी

और पढ़ें- स्टिंग में खुलासा- LJP सांसद पैसे लेकर संसद में कोई भी सवाल पूछने को तैयार

खुलासा नंबर- 9

जब बोलो संसद में उठा दूंगा सवाल

Related Posts