फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

काले धन से बीजेपी के इस सांसद का मोह इतना पुराना और मज़बूत है कि हमारी इनवेस्टिगेशन टीम से खुलकर कह दिया कि करोड़ों की मोटी रकम सिर्फ उनके बंगले पर ही डिलिवर कराई जाए.
Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा


TV9 भारतवर्ष पर अब ख़ुलासा एक ऐसे सांसद की जिन पर एक के बाद एक कई सनसनीखेज आरोप लगे हैं. ये सांसद जो एक नहीं कई बार स्टिंग ऑपरेशन्स में बेनकाब हो चुके हैं. जो तमाम आरोपों के बाद भी ना सिर्फ पार्टी में बने हैं. बल्कि पांच बार जनता इन्हें चुनकर संसद भेज चुकी है.

जी हां हम बात कर रहे हैं पूर्व स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते की जो 16 वीं लोक सभा (2014-2019) के सदस्य हैं और मध्यप्रदेश के मंडला निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. कुलस्ते भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता हैं.

वे 1999 से वाजपेयी मंत्रालय में राज्य मंत्री थे. वोट फॉर नोट कांड में नाम आने के बाद वह कई दिनों तक सूर्खियों में छाए रहे. संसद के अंदर उन्होंने भी नोट की गड्डियां लहराई थीं.

सांसद का दावा है कि पिछले आम चुनाव में यानि 2014 में इन्होंने 12 करोड़ रुपए खर्च किए. सिर्फ रैलियों पर 2 करोड़ से ज्यादा उड़ा दिए. चुनाव प्रचार के लिए गाड़ियों में, विरोधियों के वोट काटने के लिए उम्मीदवार खड़े करने में, मतदाताओं में शराब बांटने में करोड़ों की ब्लैकमनी उड़ा दी.

जाहिर है बार-बार स्टिंग ऑपरेशन का शिकार बनने वाले इस सांसद को कानून का कोई डर नहीं है. नोट लेकर संसद में सवाल उठाने का भरोसा देना सांसद महोदय के लिए कोई नई बात नहीं है.

काले धन से बीजेपी के इस सांसद का मोह इतना पुराना और मज़बूत है कि हमारी इनवेस्टिगेशन टीम से खुलकर कह दिया कि करोड़ों की मोटी रकम सिर्फ उनके बंगले पर ही डिलिवर कराई जाए.

मध्य प्रदेश के मंडला के इस सांसद ने हमारे खुफिया कैमरे पर क़बूला कि नागपुर से जबलपुर तक उनका हवाला रैकेट चलता है. 2014 के चुनाव में उन्होंने 12 करोड़ रुपये खर्च कर दिए और इस बार 15 करोड़ खर्च करने की तैयारी पूरी है.

काले धन की खेती करते हैं फग्गन सिंह कुलस्ते

फग्गन सिंह कुलस्ते पर बीजेपी को बहुत भरोसा है, तभी तो छठवीं बार उन्हें संसद पहुंचाने के लिए एमपी के मंडला से टिकट दिया है. लेकिन, क्या मंडला की जनता को भी कुलस्ते पर उतना ही भरोसा है?

अगर, हां तो उनके कालेधन का कारोबार देखकर जनता का भरोसा डगमगा सकता है. क्योंकि, मंडला के लोग तो उन्हें चुनाव जिताकर संसद भेज देते हैं, लेकिन फग्गन सिंह कुलस्ते दिल्ली पहुंचने के बाद अपनी जनता को भूल जाते हैं. उन्हें सिर्फ़ कालाधन याद रहता है. उनके पास जनहित की योजनाओं के लिए फ़ुर्सत नहीं. वो नई दिल्ली में अपने सरकारी बंगले में बैठकर चुनाव के लिए करोड़ों के ब्लैकमनी की डीलिंग में बिज़ी हो जाते हैं.

करोड़ों का कालाधन मिलने की उम्मीद में हवाला कारोबारी की तरह अपने तमाम अड्डों का ख़ुलासा करने लगते हैं. अपने बायोडाटा में ख़ुद को किसान बताने वाले फग्गन सिंह कुलस्ते का सबसे बड़ा सच ये है कि वो कालेधन की खेती करते हैं. TV 9 भारतवर्ष के ख़ुफ़िया कैमरे पर बीजेपी के वरिष्ठ सांसद कुलस्ते ख़ुद ही अपनी राजनीति का काला इतिहास, वर्तमान और भविष्य बताएंगे.

रिश्वत मामले में PMO को उनके ख़िलाफ़ मिली थी शिकायत

2005 में सांसद निधि के बदले कमीशन लेते हुए एक न्यूज़ चैनल ने कुलस्ते का स्टिंग ऑपरेशन किया था. उसके बाद 22 जुलाई 2008 को यूपीए सरकार के विश्वासमत के दौरान लोकसभा में नोटों के बंडल लहराए. यूपीए पर बहुमत के लिए ख़रीद-फ़रोख़्त का आरोप लगाया. इस मामले में उन्हें जेल भी जाना पड़ा. इसके बाद 2017 में प्राइवेट मेडिकल कॉलेज को लेकर रिश्वत से जुड़े मामले में PMO को उनके ख़िलाफ़ शिकायत मिली.

सितंबर 2017 में पीएम मोदी ने कुलस्ते को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री पद से हटा दिया. फग्गन सिंह कुलस्ते का अब तक का सियासी करियर बताता है, कि वो नोटों के लिए अपने पद के दम पर सारी हदें पार करने को तैयार हो जाते हैं.

TV 9 भारतवर्ष के अंडरकवर रिपोर्टर्स की टीम बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते से नई दिल्ली में उनके घर पर मिली. हमारी टीम के लोगों ने बताया कि वो एक कंपनी चलाते हैं, अगर कुलस्ते हमारी बात मानेंगे, तो कंपनी चुनावी ख़र्च के लिए उन्हें करोड़ों रुपये दे सकती है.Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

पढ़िए पूरी बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– ये है कम से कम हम लोग 7 करोड़ के आसपास फंड दे देंगे

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हम्मम..हम्मम

अंडरकवर रिपोर्टर– अपना ख़र्च लगभग कितना आ जाता है चुनाव में?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– चुनाव का?

अंडरकवर रिपोर्टर– वैसे पिछली बार कितना आ गया था?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– अपने यहां देखो लगभग इस समय जाएगा, हमारे यहां लगभग करीब–करीब 12 (करोड़) के आसपास गया था पिछला.

अंडरकवर रिपोर्टर– 12 करोड़ के आसपास?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, क्योंकि आदिवासी है, तो इसलिए इतना तो बड़ा ख़र्चा नहीं आता, लेकिन इस समय थोड़ा माहौल कुछ ऐसा है कांग्रेस की सरकार है, तो ये तो जाएगा 15–20 के आसपास जाना चाहिए.

अंडरकवर रिपोर्टर– 15–20 करोड़ के आसपास?

फग्गन सिंह कुलस्ते का दावा है कि वो कम से कम 10 करोड़ ख़र्च करके आराम से चुनाव लड़ते हैं, जबकि चुनाव आयोग ने ख़र्च की अधिकतम सीमा 70 लाख रुपये तय की है. मतलब ये कि पिछले लोकसभा चुनाव में कुलस्ते साहब ने तय सीमा से 14-15 गुना ज्यादा खर्च किया.

अब उनसे ये जानना ज़रूरी था कि बाक़ी का 9 करोड़ 30 लाख रुपये ब्लैकमनी उन्हें कौन देता है? और इतना सारा कालाधन वो कहां-कहां और कैसे ख़र्च करते हैं?

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो सबसे बड़ा ख़र्चा किस चीज़ पर आता है आपका?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वहां गाड़ियों पर और बूथ पर 2,535 बूथ हैं एक Assembly में

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– एक तो क्या है कि जो पोलिंग सेंटर्स हैं, उसमें हम लोग करीब–करीब 10,000 (रु.) प्रति पोलिंग सेंटर्स, तो वो सबसे ज़्यादा हमारा ख़र्च हो जाता है, और गाड़ियों का.

अंडरकवर रिपोर्टर– गाड़ियों का?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– बाकी ये जो मैनेजमेंट है, ये वो जहां आवश्यकता है मैनेजमेंट के लिए कुछ डैमेज कंट्रोल और ये वो सब चीज़ों को पर ये विशेष तौर पर किसी स्थान विशेष या किसी गांव है, पर ये जैसे पोलिंग सेंटर्स हैं तो ये 2,535 हमारे पोलिंग सेंटर्स हैं, उनको हम 2 पार्ट में करते हैं. जैसे स्टार्टिंग में हमने उनको 5,000 रुपये दिया और मतदान के 2 दिन पहले, तो मतदान में बैठक करना, ये करना तो पोलिंग सेंटर्स और बाकी वोटर्स को निकालना और ये लगभग ये।

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वैसे तो शहरों में ये 20-20, 25-25 करते हैं, शहर में, क्यों राहुल?

अन्य व्यक्ति– इतना ही 25, 30, 35 तक हो जाता है

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हमारे यहां 2 पार्ट में करते हैं

अंडरकवर रिपोर्टर– तो एक पोलिंग सेंटर पर सर कितना खर्चा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– Average है हम लोगों के यहां 10 के आसपास आता है

अंडरकवर रिपोर्टर– 10,000?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– बाकी जो दूसरे खर्चे हैं, वो अलग हैं.

स्टिंग ऑपरेशन में बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते ने खुद ही बताया कि अपने संसदीय क्षेत्र में हर पोलिंग सेंटर पर वो 10-10 हज़ार रुपये ख़र्च करते हैं. यानी करीब ढाई करोड़ रुपये काला धन सिर्फ़ पोलिंग सेंटर पर ही फूंक दिया जाता है. कुलस्ते ने ख़ुफ़िया कैमरे पर दावा किया कि हेलिकॉप्टर से होने वाली चुनावी रैलियां भी काले धन की बदौलत ही मुमकिन हो पाती हैं.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो मतलब क्या कैश देना होता है या क्या?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां वो तो कैश ही देना पड़ता है

अंडरकवर रिपोर्टर– कैश ही देना पड़ता है तो मतलब पोलिंग बूथ को देना पड़ता है या वोटर्स को देना पड़ता है?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– नहीं, नहीं पोलिंग बूथ का जो हमारा एक टीम रहता है, जो 20 लोगों की एक टीम होती है उसको देते हैं, जो उसके हेड हैं संयोजक

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– उसको देते हैं

अंडरकवर रिपोर्टर– तो सबसे बड़ा ख़र्च तो यही पड़ता है?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां तो वो देते हैं

अंडरकवर रिपोर्टर– मतलब 2.5 करोड़ के आसपास तो ये हो गया?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां.

अन्य व्यक्ति– कई जगह हेलिकॉप्टर वगैरह है, कहीं जाना है.

अंडरकवर रिपोर्टर– तो 2.5 करोड़ के आसपास लगभग इसी का बजट जाता है.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां.

कुलस्ते का दावा अगर सही है, तो चुनाव आयोग द्वारा तय की गई ख़र्च की सीमा उनके लिए कोई मायने नहीं रखती. क्योंकि, वो अपने चुनाव में तय सीमा से 10-12 गुना ज़्यादा रुपये ख़र्च करते हैं. वो भी पूरा का पूरा ब्लैकमनी. TV 9 भारतवर्ष की अंडरकवर टीम को बीजेपी सांसद कुलस्ते ने बताया कि कैसे चुनाव प्रचार की हर तस्वीर, हर गाड़ी और प्रचार के हर हथकंड़े के लिए वो कालाधन ख़र्च करते हैं.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– और दूसरा बड़ा ख़र्चा क्या हो गया इसके अलावा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– 1 (करोड़) के करीब ये एक गाड़ी का रहता है, गाड़ियों का भी करीब एक के आसपास जाता है

अंडरकवर रिपोर्टर– 1 करोड़ के आसपास?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, प्रति विधानसभा करीब–करीब 30 गाड़ियों का देना पड़ता है, क्योंकि काफ़ी फैला हुआ हिस्सा है

अंडरकवर रिपोर्टर– और इसके अलावा बड़ा ख़र्चा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– इसके अलावा management में और जैसे ये है काग़ज़ है, बाकी पोस्टर्स-बैनर वगैरह

अंडरकवर रिपोर्टर– फ्लेक्स?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, फ्लेक्स वगैरह ये जो लगता है, इसमें इसका estimate अलग रहता है इसका सारा, फिर भी इसमें भी लगभग करीब 15-20 लाख रुपये ख़र्च होता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– इसमें ज्यादा नहीं.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, इसमें ज़्यादा नहीं होता है, 15-20 लाख रुपये कुछ जैसे हमारे पॉलिटीशियन का है.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– कोई हेलिकॉप्टर की सभा कराए, उसमें करीब ढाई लाख के करीब–करीब सभा का खर्च हो जाता है, करीब एक सभा में उसका हेलिकॉप्टर का जितना टाइम है, उनका उस हिसाब से वो रहता है, बाकी उसका प्लानिंग पब्लिक को इकट्ठा करना, उसमें गाडियां लगाना भी ये तो औसत है.

चुनाव में फ़र्ज़ी प्रत्याशियों यानी डमी कैंडिडेट के बारे में आपने सुना और देखा होगा. जिन्हें हम और आप फ़र्ज़ी कैंडिडेट समझते हैं, वो कई बार काले धन की खपत का जीता-जागता सबूत होते हैं.

बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते ने TV 9 भारतवर्ष के ख़ुफ़िया कैमरे पर ये दावा किया कि वो ख़ुद ही डमी कैंडिडेट्स खड़े करवाते हैं. उन्हें लाखों रुपये ब्लैकमनी देते हैं, ताकि वो चुनाव में उनकी मदद कर सकें.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– डमी कैंडिडेट्स वगैरह भी खड़े करते हैं आप?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, वो करते हैं हम लोग, जैसे जाति के आधार पर.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– किस पार्टी को हमको मैनेज करना है चुनाव जीत के लिए.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– जैसे हम निर्दलीय लड़ाएं, निर्दलीय MLA जैसे बेदाग है, वो total throughout क्या है कांग्रेस को वोट करता है, एक हमारा कोल (समुदाय) है वो कांग्रेस को वोट करता है, तो इनमें से हम किसी न किसी कैंडिडेट को, एक–एक कैंडिडैट लड़ाते हैं तो इसमें से 25-30 हज़ार वोट वो कम्युनिटी बेस पर चला जाता है.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– तो वो अपने लिए प्लस हो जाता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– Right, right, तो इसमें कितना ख़र्च आता होगा आपको?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– उसमें हम लोगों को देना पड़ता है, 10-15, 10-15 (लाख) ऐसा करके देना पड़ता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– 10-15 लाख, 10-15 लाख?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– अब क्योंकि 2-4 लाख में नहीं होता, हम लोगों को कम से कम 5 से 6 विधानसभा के अंदर जाता है, विधानसभाओं में भी हम लोग यही करते हैं 5-6 लाख रुपये देते हैं, बाकी वो अपने तरीके से करते हैं, 5-6 लाख रुपये उनको गाड़ियों का दे दिया या कुछ फाइनेंस कर दिया.

अन्य व्यक्ति– साहब के under जो विधायक रहते हैं न, उनका जो ख़र्चा होता है विधानसभा का न वो अपना.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– तो इस आधार पर रहता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– तो सारा पैसा कैश में देना पड़ता है इनको?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां.

डमी कैंडिडेट सिर्फ़ कालाधन खपाने का ज़रिया नहीं बल्कि लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए सबसे बड़ा धब्बा हैं. क्योंकि, ऐसे उम्मीदवार देश की जनता और पूरे चुनावी सिस्टम को धोखा देने के लिए चुनाव लड़ते हैं. बीजेपी सांसद कुलस्ते ने ये ख़ुलासा भी किया कि लोकसभा चुनाव में वोटर और सपोर्टर दोनों को शराब के सुरूर में डुबोने के लिए वो लाखों रुपये का काला धन बहा देते हैं.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– दारू वगैरह भी तो सर उसका भी होगा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– क्या?

अंडरकवर रिपोर्टर– दारू वगैरह का भी तो होगा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां वही है, माने कुल मैनेज करना पड़ता है, जैसे कहीं डिमांड रहता है, कहीं ये है लोग…वो क्या है उसको तो ख़रीदना पड़ता है

अन्य व्यक्ति– हां, वो भी तो है, वो मेन है.

अंडरकवर रिपोर्टर– शराब का ख़र्च?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो तो बड़ा नहीं है.

अंडरकवर रिपोर्टर– फिर भी एक आइडिया?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– 25-30, 25-30 (लाख) के आसपास रहता है.

अब जरा सोचिए, चुनावी खर्च की अधिकतम सीमा 70 लाख है, लेकिन कुलस्ते साहब खुद ही बता रहे हैं कि 25–30 लाख रुपये तो सिर्फ समर्थकों, कार्यकर्ताओं और वोटर्स को शराब पिलाने में खर्च कर देते हैं. इसी कड़ी में बीजेपी सांसद कुलस्ते ने बताया कि कैसे वो चुनाव के दौरान काले धन को किस्तों में ख़र्च करते हैं, ताकि कहीं कोई गड़बड़ी ना हो सके.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो लगभग 4, सवा 4 के आसपास का ये बजट, मेन बजट तो ऐसे कौन से ख़र्च हैं, जो सीधे हम लोग उठा सकते हैं? जैसे मान लो हम 7 करोड़ कैश में देंगे, उसका कुछ पार्ट हमलोग कुछ आपके लिए वहां arrange कर सकते हैं क्या?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– एक तो क्या है जैसे.

अंडरकवर रिपोर्टर– डमी कैंडिडेट्स को क्या, हम उनको या मतलब पैसा उनको डायरेक्टली दे सकते हैं?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– उनको कुछ पार्ट-पार्ट में देना पड़ेगा.

अंडरकवर रिपोर्टर– पार्ट–पार्ट में देना पड़ेगा मतलब, वो आप ही कर पाएंगे?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– नहीं, कोई भी करे पर उनको थोड़ा हमें प्लान करके नोटिस में रहे.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– क्या होता है नहीं तो मान लो अपन ने जैसे 15 दे दिए, वो जेब में रख लिया.

चुनाव में काले धन के इस्तेमाल को लेकर सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते की एक-एक बात TV 9 भारतवर्ष की अंडरकवर टीम के ख़ुफ़िया कैमरे में रिकॉर्ड हो रही थी. इसी दौरान हमारी टीम के मन में ये सवाल उठा कि नोटबंदी के बाद तो काले धन के ख़ात्मे का दावा किया गया था. फिर इतने बड़े पैमाने पर ये नेता काला धन कैसे मैनेज करेंगे? इस सवाल पर पीएम मोदी की पार्टी के सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते नोटबंदी का सच भी बताने लगे.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो सर हमलोग आपको 7 करोड़ से बजट तो और ज्यादा बढ़ा देते, लेकिन वो नोटबन्दी की वजह से सारा मामला जो है चौपट हो गया, तो आपको क्या लगता है नोटबंदी को लेकर सर.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– अब देखिए, व्यवसायियों में तो नाराज़गी है.

अंडरकवर रिपोर्टर– चुनाव का तो अब आपको तो पता ही है बिना कैश के, कोई चुनाव लड़ सकता है तो बताओ.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– आजकल चुनाव बहुत महंगा हो गया है.

अन्य व्यक्ति– पहले तो नहीं था, अब बहुत ज़्यादा हो गया है.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हमारे यहां ये देखो सबसे कम ख़र्चे में, हम ही लड़ते हैं चुनाव, मैं मेहनत करता हूं लोगों को जोड़ के रखा मेरे साथ में, मेरा पूरा टाइम में, मैं 18-20 घंटे रोज़ाना.

अंडरकवर रिपोर्टर– क्षेत्र में?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हम्मम

अन्य व्यक्ति– क्योंकि संसद में.

अंडरकवर रिपोर्टर– नहीं मैं वो बता रहा था कि कितना डिस्टर्ब हो गया हम लोगों का इससे, नोटबंदी की वजह से मतलब आपको भी प्रॉब्लम आई होगी फंड्स में?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो बड़ी समस्या है, जैसे हम लोगों को तो वो ट्रांसफर कराना पड़ता है, कहीं वो बीच में अगर जैसे हमको किसी ने मदद किया

अंडरकवर रिपोर्टर– तो जैसे उनके वो जो संपर्क रहते हैं, वहां के स्थानीय लोगों से?

अंडरकवर रिपोर्टर– मैं ये कह रहा था जैसे 7 करोड़ में से कुछ पार्ट जो है, जो अभी हमलोग लगभग 2 करोड़ के आसपास है, अभी आपको दे देंगे कैश में.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– ठीक है

अंडरकवर रिपोर्टर– तो आपको सर ये कहां दे दें? घर में दे दें या आपका कोई माध्यम है कोई?

अन्य व्यक्ति– वो बात करके बता देंगे साहब (फग्गन सिंह कुलस्ते)

अंडरकवर रिपोर्टर– नहीं क्या है कि परसों की बात है न?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– अभी क्या है, यहां भी दे सकते हैं, क्या है हमको तो बहुत सारा material दिल्ली से ही करना पड़ता है सब.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

अन्य व्यक्ति– सेंट्रल है न.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां.

जुलाई 2008 में संसद में नोटों के बंडल लहराने वाले बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते जेल की हवा खा चुके हैं, लेकिन उनकी हिम्मत देखिए. हमारी अंडरकवर टीम ने फ़र्ज़ी कंपनी बनकर उन्हें करोड़ों रुपये का जो काला धन उपलब्ध कराने का ऑफर दिया था, उसके लिए वो सारा पैसा अपने दिल्ली वाले सरकारी आवास पर ही मंगवाने को तैयार हो गए. इतना ही नहीं उन्होंने दिल्ली के अलावा कई और ठिकाने भी बताए, जहां से हवाला के ज़रिए वो करोड़ों रुपये मंगवाते हैं.

Sting opeation of former Minister of State faggan singh kulaste, फिर ‘मनी मोह’ में फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री, TV9 Bharatvarsh के खुफिया कैमरे में खुलासा

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– नहीं मैं इसलिए पूछ रहा हूं कि कोई मतलब होता है न आपको हमें तो नहीं आपके?

फग्गन सिंह कुलस्ते– हां, जैसे नागपुर है हमारा.

अंडरकवर रिपोर्टर– हां.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– नागपुर से भी अपन कर सकते हैं.

अंडरकवर रिपोर्टर– जैसे आपका अपना हवाला का बंदा हो, उसको हमने यहां से वहां पर करवा दिया डायरेक्ट, आपके confidence के बंदे हों.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो हमारे इंदौर वाले हैं, जबलपुर वाले हैं.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– जौनपुर है, इंदौर है, सब करते हैं, हमारे ही लोग हैं.

न्य व्यक्ति– पहला यहां कर देना, फिर आगे साहब (फग्गन सिंह कुलस्ते) से.

अंडरकवर रिपोर्टर– हां मैं इसीलिए पूछ रहा हूं, उससे हम लोग बता देंगे, क्योंकि हमारा क्या है न confidence वाला मामला है, confidential वाला मामला है, क्योंकि हमलोग जिनसे करवाते हैं, वो हमारा confidential मामला होता है, इसलिए आपसे पूछ रहे हैं कि आप क्योंकि आपने पहले भी चुनाव में हवाला के ज़रिए तो आपको मालूम होगा इस चीज़ के बारे में?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हम्मम…हम्मम

अंडरकवर रिपोर्टर– कि किसके ज़रिए मंगाना ठीक रहता है? सेफ़ रहेगा? मैं इसलिए पूछ रहा था आपसे basically, जैसे अभी तो आपको कैश में दे देंगे 2 करोड़ रुपये.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां

अंडरकवर रिपोर्टर– लेकिन जो बाकी रकम है, 5 करोड़ रुपये वो हम आपको.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो तो फिर अपने को उससे देखना पड़ेगा.

अंडरकवर रिपोर्टर– इसलिए मैं कह रहा था आपसे.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो तो हम कर लेंगे उसको, हमारे जैसे जबलपुर में हैं, Generally हम लोग जबलपुर से करते हैं, हमारा region जबलपुर ही पड़ता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– तो जबलपुर से Generally हम लोग करते हैं हर चुनाव में.

फग्गन सिंह कुलस्ते ने बेफ़िक्र होकर बताया कि जबलपुर से नागपुर तक उनका हवाला रैकेट फैला हुआ है. मगर, उन्होंने ये ख़ुलासा भी किया कि चुनाव के लिए बीजेपी हेडक्वार्टर से उन्हें जो फंड मिलता है, वो आयोग की तय सीमा से ज़्यादा मिलता है और वो भी कैश.

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो सर पार्टी से भी तो आपको फंड मिलता होगा चुनाव के लिए लगभग कितना मिलता होगा?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, पार्टी ज़्यादा नहीं करता, 70-80 (लाख), 1 (करोड़) के आसपास.

अंडरकवर रिपोर्टर– 1 करोड़ के आसपास कर देते हैं?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, last time में तो उन्होंने कुछ किया भी नहीं था, 60 से 70 (लाख) दिया था.

अंडरकवर रिपोर्टर– तो पार्टी कैश में देती है या कैसे देती है?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, हां कैश देती है.

अंडरकवर रिपोर्टर– पार्टी कैश देती है?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– तो ज़्यादा रुचि इसमें रहती नहीं, क्योंकि अब हम लोग तो क्या है, हमको तो कभी दिया भी नहीं उन्होंने, हम तो अपना मैनेज ख़ुद ही कर लेते हैं.

अन्य व्यक्ति– इनको तो अपना मैनेज खुद ही करना पड़ता है.

एमपी के मंडला से बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते TV 9 भारतवर्ष की टीम के सामने अपनी लाचारी दिखा रहे हैं. वो बताने की कोशिश कर रहे हैं कि पार्टी से सिर्फ़ एक करोड़ रुपये ही मिलते हैं, बाक़ी के 10-12 करोड़ रुपये वो ख़ुद ही मैनेज करते हैं. तो सवाल ये है कि क्या इस बार भी वो करोड़ों का ब्लैकमनी अपने चुनाव के लिए मैनेज कर पाएंगे? अगर हां, तो वो सारा कालाधन कहां ख़र्च किया जाएगा?

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– तो इस बार आपको कितना अनुमान लग रहा है कि कितना ख़र्च आ जाएगा election में?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– 13-14 के आसपास 15 (करोड़) तक हो सकता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– 15 करोड़ (रुपये) के आसपास?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, ये सारा सब.

अंडरकवर रिपोर्टर– तो जैसे आपने मोटा–मोटा 5 करोड़ का ये बताया, बाकी बड़ा expenses किसमें आ गया? बहुत बड़ा expense जिसे कहते हैं?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– बहुत manage करना पड़ता है, जैसे कोई मंडल हमारे ब्लॉक हैं.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– कमज़ोर है तो उनमें जैसे आपको किसी को शराब पिलाना है, किसी को बकरा खिलाना है, ये सब करना पड़ता है, या कोई ऐसा कोई कैंडिडेट वाला मामला आ गया, तो जैसे अलग–अलग 2-3 कैंडिडेट पार्टी में या उसको मैनेज करना पड़ता है, वो सबसे हमारे लिए थोड़ा उसका cost लगभग 2 (करोड़)

अंडरकवर रिपोर्टर– उस पार्टी को कितना पैसा देना पड़ता है आपको?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– पार्टी को तो इसी आधार पर रहता है.

अंडरकवर रिपोर्टर– नहीं जैसे आप बता रहे हो न, पार्टी को set करना पड़ता है.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां

अंडरकवर रिपोर्टर– उसको लगभग कितना पैसा देना पड़ता है?

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो हम लोगों को देखो अभी तक कभी-कभी हम लोग को थोक में ऐसा कुछ एरिया के हिसाब से बांटते हैं, Last time हमने 2-2 करोड़ दिये थे.

अगर आप ये समझ रहे हैं कि फग्गन सिंह कुलस्ते सांसद बनने के बाद ब्लैकमनी के लिए तमाम तरह की सौदेबाज़ी करते हैं, तो हम आपको बता दें कि वो संसद तक पहुंचने के लिए भी कालेधन के दम पर वोटों की ख़रीद-फ़रोख़्त करते हैं. उनका ये दावा TV 9 भारतवर्ष के ख़ुफ़िया कैमरे में रिकॉर्ड हो गया. 

आगे की बातचीत

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वोट बैंक है वो ज़रा भावनात्मक हिसाब से

अंडरकवर रिपोर्टर– बिल्कुल

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– जोड़ते हैं, वो थोड़ा सा हमको manage ज़्यादा करना पड़ता है और उसको last time में कमलनाथ जी ने इनको किया था

अंडरकवर रिपोर्टर– अच्छा

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– तो मेरा वोट उस समय इनका था 1 लाख 69 हज़ार वोट वो 22,000 में आ गया था.

अंडरकवर रिपोर्टर– अच्छा

लोकसभा चुनाव में ब्लैकमनी के अंधाधुंध इस्तेमाल पर TV 9 भारतवर्ष के सबसे बड़े स्टिंग ऑपरेशन के दौरान बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते खुद ही अपने राज खोलते गए और बेनकाब होते गए . उन्होंने खुलकर बताया कि कैसे वो डमी कैंडिडेट, बेहिसाब गाड़ियां और वोटर्स के लिए शराब पर बेहिसाब खर्च करते हैं. आदिवासियों के नेता कुलस्ते यह भी बताया कि कैसे वो ब्लैकमनी के दम पर दलितों का वोट भी ख़रीदते हैं.

आगे की बातचीत

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– दलित वोट है वो Basically कांग्रेस का वोट है हमारे यहां.

अंडरकवर रिपोर्टर– हम्मम.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– और हर शहर में दलित रहता है, बाहर का आदमी तो कोई रहता नहीं.

अंडरकवर रिपोर्टर– सही बात है.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– उनको सामूहिक बैठक कराना, ये कराना थोड़ा.

अंडरकवर रिपोर्टर– मतलब ये है आपको इन पार्टियों को जो Local parties हैं इनको मैनेज करना, plus जो ब्लॉक स्तर पर लोग हैं, उनको मैनेज करने में सबसे ज़्यादा ख़र्चा तो मतलब उसी में आ रहा है.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हां, तो उसमें लगभग आ जाता है 2-3, 2-3 (करोड़) के आसपास तो उसमें आ जाता है.

बीजेपी सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते के मुताबिक वो चुनाव में खुलकर कालेधन का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन संसद में सवालों के बदले भी काला धन मिल जाए, तो उसके लिए भी वो तैयार हैं.

आगे की बातचीत

अंडरकवर रिपोर्टर– Sir एक Request और है, if you don’t mind कि कुछ हमारे जो companies हैं, उनके कुछ issues होते हैं, ठीक है न, उनके फेवर के कुछ issues आपको जो है संसद में कई बार.

अन्य व्यक्ति– वो तो उठा देंगे.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– वो आप बताइये.

अन्य व्यक्ति– बता कर दे देंगे, वो तो question कर देंगे साहब put up कर देंगे.

फग्गन सिंह कुलस्ते, बीजेपी सांसद, मंडला– हम्मम.

Related Posts