देश की सबसे ईमानदार पार्टी के इस सांसद को ब्लैक मनी से कोई परहेज नहीं, खुफिया कैमरे पर बड़ा खुलासा

अरविंद केजरीवाल की पार्टी के सांसद साधू सिंह ने खुलकर कहा, पिछली बार जब चुनाव में उतरे थे तो आम आदमी पार्टी एक आंदोलन थी. अब एक राजनीति पार्टी है और पार्टी चलाने के लिए पैसा लेना गुनाह नहीं है.
Sting opeation of Punjab MP Sadhu singh, देश की सबसे ईमानदार पार्टी के इस सांसद को ब्लैक मनी से कोई परहेज नहीं, खुफिया कैमरे पर बड़ा खुलासा

ऑपरेशन भारतवर्ष में अब बात उस राजनेता की जो एक जन आंदोलन की बदौलत सांसद तो बन गया लेकिन उसका ज़मीर बिक चुका है. पहली बार 2014 के चुनाव में पंजाब के फ़रीदकोट से जीत हासिल कर संसद पहुंचे आम आदमी पार्टी नेता साधू सिंह ने खुफिया कैमरे के सामने कबूला कि वो पैसे के दम पर वोट का सौदा करते हैं.

आम आदमी पार्टी के इस सांसद ने बताया कि पिछली बार की तरह इस बार भी चुनाव में जीत के लिए उसने कोई कसर नहीं छोड़ी है.

TV9 भारतवर्ष की स्पेशल इंवेस्टिगेटिंग टीम के साथी उमेश पाटिल, कुलदीप शुक्ला, राम कुमार, अभिषेक कुमार और बृजेश तिवारी इस सांसद की हकीकत देश के सामने लाने के लिए दिल्ली से पंजाब के फरीदकोट गए.

अरविंद केजरीवाल की पार्टी के सांसद साधू सिंह ने खुलकर कहा, ‘पिछली बार जब चुनाव में उतरे थे तो आम आदमी पार्टी एक आंदोलन थी. अब एक राजनीति पार्टी है और पार्टी चलाने के लिए पैसा लेना गुनाह नहीं है.’

ईमानदार राजनीति की कसमें खाकर सत्ता में आए केजरीवाल के इस सांसद का मतलब साफ था राजनीति में बने रहना है तो चुनाव जीतना होगा और चुनाव जीतने के लिए कानून को ठेंगे पर भी रखना पड़े तो कोई बात नहीं.

आप जान कर हैरान हो जाएंगे आम आदमी पार्टी के इस सांसद ने कबूला कि चुनाव जीतने के लिए आम आदमी के वोट को खरीदना भी पड़ता है.

टीवी 9 भारतवर्ष के अंडरकवर रिपोर्टर्स से AAP सांसद साधू सिंह ने कहा  ‘अगर चुनाव में मदद करनी है तो रकम कैश में दो.’ मतलब साफ है जो भी दो ब्लैक मनी दो. इलेक्शन फंड के लिए चंदा लेना गैरकानूनी नहीं लेकिन लाखों करोड़ों कैश में लेना और चुनाव में बेहिसाब उड़ा देना गैरकानूनी है.

पंजाब से चुनकर आए केजरीवाल के इस सांसद ने हमारे खुफिया कैमरे पर कहा कि ‘विरोधी तो करोड़ों खर्च करते हैं. मुझे भी चुनाव के लिए कम से कम 3 करोड़ रुपये चाहिए.’

Sting opeation of Punjab MP Sadhu singh, देश की सबसे ईमानदार पार्टी के इस सांसद को ब्लैक मनी से कोई परहेज नहीं, खुफिया कैमरे पर बड़ा खुलासा

आइए अब सिलसिलेवार तरीके से साधू सिंह की बात सुनाते हैं-

चुनाव खर्च को लेकर उन्होंने कहा ‘प्रमाणित खर्च तो कम होता है लेकिन असल में वो खर्च करोड़ों में होता है. इस मौके पर आप सांसद साधू सिंह के पीए ने बताया कि उनकी आम आदमी पार्टी वोट नहीं खरीदती है और न ही शराब बांटती है. फिर भी खर्च 2-3 करोड़ से ऊपर का होता है.’

उन्होंने बताया कि ‘सबसे ज़्यादा खर्च रैली, बैनर, पोस्टर और झंडे में होता है. उन्होंने बताया कि यह हमारी अच्छी बात है कि हम चुनाव में शराब और नशे का प्रयोग नहीं करते हैं. ‘उन्होंने बताया कि ‘फ़रीद कोर्ट लोकसभा सीट पर विरोधी दल 27 करोड़ रुपये खर्च करते हैं इसलिए उन्हें भी तीन करोड़ रुपये खर्च करना होता है.’

हालांकि कैश यानी कि ब्लैक मनी लेने में आम आदमी पार्टी को कोई झिझक नहीं. वो तीन करोड़ रुपये कैश लेने को तैयार हैं. उन्होंने चैक लेने से यह कहते हुए मना कर दिया कि इससे प्रॉब्लम हो जाएगी.

उन्होंने बताया कि चुनाव जीतने के लिए उन्हें तीन-चार डमी कैंडिडेट भी खड़े करने होते हैं.

Sting opeation of Punjab MP Sadhu singh, देश की सबसे ईमानदार पार्टी के इस सांसद को ब्लैक मनी से कोई परहेज नहीं, खुफिया कैमरे पर बड़ा खुलासा

और पढ़ें- स्टिंग में खुलासा- LJP सांसद पैसे लेकर संसद में कोई भी सवाल पूछने को तैयार

आइए जानते हैं क्या है खुलासा

खुलासा नंबर- 1

2014 चुनाव में खर्च हुए 2 करोड़

खुलासा नंबर- 2

2019 चुनाव में 3 करोड़ रुपये खर्च की तैयारी

खुलासा नंबर- 3

चेक में प्रॉब्लम, कैश दे दो

खुलासा नंबर-4

पहले आप आंदोलन था अब एक राजनीतिक पार्टी है.

खुलासा नंबर- 5

वोट काटने के लिए डमी कैंडिडेट भी उतारना होता है.

खुलासा नंबर- 6

बूथ मैनेजमेंट में सबसे अधिक खर्च

और पढ़ें- स्टिंग में खुलासा- BJP सांसद उदित राज ने पिछले चुनाव में उड़ाए 5 करोड़, कहा- नोटबंदी से मची तबाही

खुलासा नंबर- 7

पैसे के दम पर वोटर्स का सौदा.

Related Posts