मोदी-शाह के खिलाफ कांग्रेस MP की याचिका SC ने की खारिज, कहा- EC ले चुका है फैसला

सुष्मिता देव ने याचिका में सुप्रीम कोर्ट से चुनाव आयोग को पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ उनके घृणास्पद भाषणों के लिए कार्रवाई करने का निर्देश देने की मांग की थी.

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर दायर की गई याचिका खारिज कर दी गई है. यह याचिका कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने दाखिल की थी. कोर्ट ने कहा है कि इस शिकायत पर चुनाव आयोग पहले ही फैसला ले चुका है.

सुष्मिता देव ने याचिका में सुप्रीम कोर्ट से चुनाव आयोग को पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ उनके घृणास्पद भाषणों के लिए कार्रवाई करने का निर्देश देने की मांग की थी. कांग्रेस का कहना था कि ये भाषण आचार संहिता का उल्‍लंघन है.

सुष्मिता देव ने अपनी याचिका में कहा था कि चुनाव आयोग यह मानने को तैयार नहीं है कि पीएम और भाजपा अध्यक्ष के भाषणों में घृणा फैलाने वाले बयान जनप्रतिनिधि अधिनियम, 1951 के तहत भ्रष्ट प्रचलन है. आयोग बार-बार शिकायतों के बाद भी दोनों के खिलाफ उचित कार्रवाई नहीं कर पाया है. आयोग ने दोनों को ज्यादातर शिकायतों में क्लीन चिट दे दी है.

अभिषेक मनु सिंघवी इस मामले में सुष्मिता देव के वकील हैं. उनका कहना था कि कांग्रेस ने कई बार आयोग को दी शिकायतों में बताया कि प्रधानमंत्री और भाजपा अध्यक्ष जानबूझ कर प्रचार अभियान के दौरान सुरक्षाबलों का इस्तेमाल कर रहे हैं. यह आचार संहिता का उल्लंघन है. बावजूद इसके चुनाव आयोग हर शिकायत खारिज कर रहा है.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुष्मिता देव से कहा था कि वह चुनाव आयोग की ओर से पीएम मोदी और अमित शाह को आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के मामले में क्लीन चिट देने के सबूत पेश करें. इस मामले की अगली सुनावाई बुधवार को हुई.

Read Also: भ्रष्टाचारी नंबर वन या मिस्टर क्लीन? पढ़ें राजीव गांधी की बतौर प्रधानमंत्री 5 सफलता-विफलता