जब LIVE TV पर आमने-सामने हुए पीएम नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी

जहां राहुल गांधी अपनी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बार-बार मोदी सरकार पर हमले करते रहे, वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने ज्‍यादातर अपनी सरकार के पांच साल के कार्यों पर ही बात की.

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव अब अंतिम दौर में है. 17 मई को शाम पांच बजे चुनाव चुनाव प्रचार खत्‍म होने से ऐन पहले पीएम नरेंद्र मोदी के साथ अमित शाह प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने आए. एक बार तो लगा कि मामला शायद प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोड्से वाले बयान से जुड़ा है, लेकिन जिस प्रकार से अमित शाह ने एक-एक कर मोदी सरकार के पांच साल के कार्यों का बखान करना शुरू किया, उससे स्‍पष्‍ट हो गया.

अमित शाह ने अपनी बात की शुरुआत करते हुए कहा, ‘पीएम मोदी जी पहली बार पार्टी दफ्तर में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने आए हैं, ये आनंद और आश्‍चर्य की बात है.’

राहुल के आते ही स्क्रीन का बंटवारा
उधर, बीजेपी दफ्तर में अमित शाह ने अपनी बात रखना शुरू किया ही था कि कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी भी टीवी स्‍क्रीन पर आ गए. राहुल गांधी के आते ही टीवी चैनल्‍स की स्‍क्रीन का बंटवारा हो गया. आधी स्‍क्रीन पर अमित शाह- नरेंद्र मोदी और आधी स्‍क्रीन पर राहुल गांधी LIVE थे.

ये भी पढ़ें-पांच साल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी, अमित शाह बोले- अबकी बाद होगी जबरदस्त जीत

ऐसा पहली बार हुआ है
इस तरह कई बातें पहली बार हुईं. एक तो पीएम नरेंद्र मोदी पहली बार पांच साल में पहली बार प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में आए. दूसरा पीएम मोदी-अमित शाह और राहुल गांधी को एक साथ दर्शकों ने टीवी पर LIVE देखा.

नजारा बड़ी ही अद्भुत था
नजारा बड़ी ही अद्भुत था, इधर अमित शाह मोदी सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे और उधर राहुल गांधी राफेल से लेकर रडार तक का जिक्र कर हमले कर रहे थे.

राहुल गांधी ने ली चुटकी
राहुल गांधी ने राजनीतिक हमले के साथ ही पीएम मोदी और अमित शाह की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस पर भी चुटकी ली. राहुल गांधी ने कहा- ‘चुनाव नतीजों से पांच दिन पहले प्रधानमंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं, बहुत अच्छा है, लेकिन मुझे पता लगा है कि वह खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं कर रहे हैं, वह बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद हैं. लेकिन वहां पर तो दरवाज़ा ही बंद कर दिया गया है, कुछ पत्रकारों को तो घुसने भी नहीं दिया जा रहा है.’

अमित शाह ने की सरकार की तारीफ
जहां राहुल गांधी अपनी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बार-बार मोदी सरकार पर हमले करते रहे, वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने ज्‍यादातर अपनी सरकार के पांच साल के कार्यों पर ही बात की.