शत्रुघ्न सिन्हा के ‘तत्काल’ कांग्रेस जॉइन करने पर किसने लगाया ‘ब्रेक’? पढ़ें Inside Story

शत्रुघ्न सिन्हा ने गुरुवार को कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात तो की लेकिन पार्टी में शामिल होने पर अभी भी संशय बना हुआ है.

पटना: शत्रुघ्न सिन्हा की बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बेरुखी किसी से भी छुपी नहीं है. वह 2014 में सरकार में आने के बाद से ही समय-समय पर बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी का विरोध करते रहे हैं. यही कारण बना है कि पार्टी ने इस बार उन्हें टिकट नहीं दिया. इसी बीच राजनीतिक गलियारों में खबर उड़ी की लोकसभा चुनाव के पहले आज यानी गुरुवार को वह कांग्रेस पार्टी का दामन थाम सकते हैं. लेकिन जल्द ही इस खबर पर ब्रेक लग गया और इस ब्रेक का कारण बताया जा रहा है लालू प्रसाद यादव को.

पटनासाहिब से लड़ने पर अड़े हुए हैं शत्रुघ्‍न 

दरअसल, शॉटगन सिन्हा गुरुवार को कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी से मिले तो, लेकिन उनके पार्टी जॉइन करने का मसला फंस गया. शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस जॉइन करेंगे या नहीं, इस पर संशय बना हुआ है. हालांकि उनके पटना साहिब से चुनाव लड़ने की बात पर वो अभी भी अड़े हुए हैं. बीजेपी ने उन्हें इस बार टिकट नहीं दिया है और उनकी सीट से रविशंकर प्रसाद को मैदान में उतारा है. तो यह साफ है कि वह कांग्रेस की ओर से इस सीट पर दावा फिर से ठोक सकते हैं.

नवरात्र के शुभ मुहुर्त में होगा ऐलान 

हालांकि, आरजेडी प्रमुख ने उनके इस कदम पर ऐन मौके पर पूर्ण विराम लगा दिया. जिसके कारण शत्रुघ्न सिन्हा को कहना पड़ा कि नवरात्र के शुभ मुहुर्त में वह इसका ऐलान करेंगे. दरअसल लालू प्रसाद यादव अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के काफी करीबी हैं. और उनकी सलाह पर भरोसा भी करते हैं. इस बात का जिक्र उन्होंने गुरुवार को भी किया था.

लालू मेरे पारिवारिक मित्र 

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा था, ‘लालू प्रसाद यादव मेरे पारिवारिक मित्र हैं. हम एक-दूसरे के बेहद करीब भी हैं. ये नवरात्र की बात उन्होंने (लालू जी) की है. तो हो सकता है कि लालू की सलाह से शॉटगन ने कांग्रेस का दामन नहीं थामा हो. लेकिन फिलहाल कांग्रेस का दामन न थामने का एक और कारण भी हो सकता है. वो है बिहार में महागठबंधन का सीट शेयरिंग पर संशय. मालूम हो कि बिहार में कांग्रेस पार्टी महागठबंधन का हिस्सा है और फिलहाल महागठबंधन में कौन से दल को कौन सी सीट से उम्मीदवार उतारने का मौका मिलेगा यह अभी साफ नहीं हुआ है.

ऐसे में कांग्रेस पार्टी गठबंधन के फैसले के पहले ये घोषणा नहीं कर सकती है कि शत्रुघ्न को पटना साहिब सीट से उतारा जाए. इस लिए शत्रुघ्न की आधिकारिक जॉइनिंग की तारीख को भी टाला गया है. गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी के नेता आर.के आनंद और चुनाव अभियान समिति के प्रमुख अखिलेश प्रताप सिंह पहले ही शत्रुघ्न के कांग्रेस में शामिल होने की बात कह चुके हैं.