27 बार सांसद दे चुका ये राजपरिवार, जानिए कौन-कब लड़ा चुनाव

सिंधिया परिवार के लोग जनसंघ, भाजपा, कांग्रेस, और निर्दलीय चुनाव लड़कर जीत चुके हैं.

देश में 17 वीं लोकसभा के लिए मतदान किए जा रहे हैं. लोकसभा चुनाव के सियासी मैदान में राजपरिवारों के लोग भी चुनाव लड़ते आए हैं. कुछ राजपरिवारों ने सियासत छोड़ दी तो कुछ ने जारी रखी.

वहीं मध्य प्रदेश का एक ऐसा राजपरिवार जिसने अपनी सियासत को आज भी जारी रखा. यह सिंधिया राजपरिवार है जिसने 1957 से सियासी मैदान में कदम रखा और 2014 तक लोकसभा चुनाव में 27 बार सांसद का चुनाव जीता.

देश में अभी तक सोलह लोकसभा के चुनाव संपन्न हुए हैं. लेकिन इस परिवार के सदस्यों ने 27 बार लोकसभा चुनाव में जीत हासिल की. 1957 में इस परिवार से सबसे पहला चुनाव राजमाता विजयाराजे सिंधिया (सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की दादी ) ने लड़ा.

उन्होंने यह चुनाव गुना लोकसभा से कांग्रेस की ओर से लड़ा और जीत हासिल की. उन्होंने आठ बार लोकसभा चुनाव जीता. एक बार इंदिरा गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

उन्होंने 2 बार कांग्रेस से, 4 बार भाजपा से, 1 बार जनसंघ और 1 बार निर्दलीय चुनाव लड़कर जीत हासिल की. इसके बाद उनके बेटे माधवराव सिंधिया ने 1971 से चुनाव लड़ा और 1999 तक 9 बार चुनाव जीते.

माधवराव सिंधिया ने 6 बार कांग्रेस, 1 बार निर्दलीय, 1 बार जनसंघ, 1 बार मध्य प्रदेश विकास कांग्रेस पार्टी जो उन्होंने खुद बनाई थी, से चुनाव लड़े और जीत हासिल की.

राजस्थान राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री बनने वाली वसुंधरा राजे सिंधिया, राजमाता विजयाराजे सिंधिया की बेटी हैं. इनकी शादी राजस्थान में हुई जिसके बाद इन्होंने अपना राजनीतिक सफर राजस्थान से शुरू किया. वसुंधरा राजे राजस्थान की झालावाड़ लोकसभा सीट से 4 बार लोकसभा का चुनाव जीतकर संसद पहुंच चुकी हैं.

माधवराव सिंधिया के निधन के बाद उनके बेटे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उपचुनाव लड़कर राजनीति की कमान थामी. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 2002 में अपनी राजनीति पारी की शुरुआत की और उपचुनाव जीतकर संसद पहुंचे. इसके बाद 3 लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने जीत हासिल की.

यशोधरा राजे सिंधिया (विजयाराजे सिंधिया की सबसे छोटी बेटी) ने 2 बार भाजपा से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. कांग्रेस के युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया इस लोकसभा चुनाव में अपनी परंपरागत सीट गुना लोकसभा से 5वीं बार चुनावी मैदान में है. अगर उनकी जीत होगी तो परिवार के खाते में एक और जीत दर्ज हो जाएगी.

विजयाराजे सिंधिया ने कब और कहां से लड़ा चुनाव-
1957-गुना लोकसभा-कांग्रेस
1962-ग्वालियर लोकसभा-कांग्रेस
1967-गुना लोकसभा-निर्दलीय (उपचुनाव)
1971-भिण्ड लोकसभा-जनसंघ
1989-गुना लोकसभा-भाजपा
1991-गुना लोकसभा-भाजपा
1996-गुना लोकसभा-भाजपा
1998-गुना लोकसभा-भाजपा

माधवराव सिंधिया ने कब और कहां से लड़ा चुनाव-
1971-गुना लोकसभा-जनसंघ
1977-गुना लोकसभा-निर्दलीय
1980-गुना लोकसभा-कांग्रेस
1984-ग्वालियर लोकसभा-कांग्रेस
1989-ग्वालियर लोकसभा-कांग्रेस
1991-ग्वालियर लोकसभा-कांग्रेस
1996-ग्वालियर लोकसभा-मध्य प्रदेश विकास कांग्रेस पार्टी
1998-ग्वालियर लोकसभा-कांग्रेस
1999-गुना लोकसभा-कांग्रेस

वसुंधरा राजे सिंधिया ने कब और कहां से लड़ा चुनाव-
1989-झालावाङ लोकसभा-भाजपा
1991-झालावाड़ लोकसभा-भाजपा
1996-झालावाड़ लोकसभा-भाजपा
1999-झालावाड़ लोकसभा-भाजपा
यशोधरा राजे सिंधिया ने कब और कहां से लड़ा चुनाव-
2007-ग्वालियर लोकसभा-भाजपा (उपचुनाव)
2009-ग्वालियर लोकसभा-भाजपा

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कब और कहां से लड़ा चुनाव-
2002-गुना लोकसभा-कांग्रेस (उपचुनाव)
2004-गुना लोकसभा-कांग्रेस
2009-गुना लोकसभा-कांग्रेस
2014-गुना लोकसभा-कांग्रेस

ज्योतिरादित्य सिंधिया 2019 लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश की गुना लोकसभा सीट से मैदान में हैं. यदि उनकी पांचवीं जीत होती है तो सिंधिया परिवार के लिए 28 वीं जीत होगी.