फेसबुक पर बने बॉयफ्रेंड से मिलने बेंगलुरु से भोपाल पहुंची 10वीं की छात्रा

लड़की के पिता बेंगलुरु में बिजनेसमैन हैं. वह बेंगलुरु से फ्लाइट से भोपाल आई थी.

भोपाल: सोशल मीडिया की दोस्ती एक लड़की को बेंगलुरु से भोपाल तक खींच लाई. जानकारी के मुताबिक दोनों में दोस्ती इतनी गहरी हो गई थी कि दोनों आपस में गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड मानने लगे थे.

घर पर लड़की को देख हैरान हो गए सभी

लड़की 10वीं क्लास की स्टूडेंट है और लड़का भी नाबालिग है. शनिवार को लड़की भोपाल में अपने बॉयफ्रेंड के दरवाजे पहुंची. नाबालिग लड़का अपने घर पर लड़की को देखकर हैरान रह गया और उसने लड़की के ठहरने के लिए एक होटल बुक कराया लेकिन खुद उसके साथ नहीं रहा.

फेसबुक के जरिए हुई दोस्ती

इस दौरान उसने लड़की को घर वापस जाने के लिए कई बार मनाया लेकिन वह नहीं मानी. बताया जा रहा है कि दोनों फेसबुक के जरिए मिले थे. तंग आकर लड़की ने होटल से चेक आउट कर लिया और ISBT हबीबगंज के पास रोते हुए देखी गई.

पुलिस ने लड़की को CWC के लिए सौंपा

किसी व्यक्ति ने पुलिस की गाड़ी (डायल 100) को उसकी जानकारी दे दी. पुलिस की गाड़ी (डायल 100) ने उसे ले जाकर चाइल्ड वेल्फेयर कमिटी (CWC) को काउंसलिंग के लिए सौंप दिया. CWC के सूत्रों के मुताबिक, वह यहां पर अपने बॉयफ्रेंड का करेक्टर चेक करने आई थी.

फ्लाइट से भोपाल आई लड़की

लड़की के पिता बेंगलुरु में बिजनेसमैन हैं. वह बेंगलुरु से फ्लाइट से भोपाल आई थी. सोमवार को लड़की और उसके बॉयफ्रेंड के बीच झगड़ा भी हुआ क्योंकि वह उसे घर वापस जाने के लिए कह रहा था. उसने होटल से चेकआउट कर लिया और सड़कों पर बेतरतीब घूमने लगी.

पिता ले गए वापस घर

CWC के सदस्य राजीव जैन ने बताया, ‘उसने बताया कि वह कॉल सेंटर में काम करती है और अपने बॉयफ्रेंड से मिलने भोपाल की फ्लाइट पकड़ने के लिए उसके पास पर्याप्त पैसे हैं’ उन्होंने बताया, ‘हमने उसके पिता को कॉल करके भोपाल बुलाया और उसे घर वापस ले जाने के लिए कहा. सोमवार को लड़की और उसके पिता दोनों बेंगलुरु वापस चले गए.’

ये भी पढ़ें- MP: BJP सांसद केपी यादव के बिगड़े बोल, महिला कलेक्टर पर की विवादित टिप्पणी

ये भी पढ़ें-‘भीख नहीं, हक है’… जानें कर्ज माफी के लिए सुरीली अपील करने वाला किसान कौन है?