प्रज्ञा ठाकुर के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन, लाठी-डंडों के साथ कार्यालय के बाहर डटे रहे BJP कार्यकर्ता

बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि 'अगर कांग्रेसी विधायक कार्यकर्ताओं के साथ बीजेपी कार्यालय आए और कोई असामाजिक गतिविधि की तो हमारे कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेंगे.'
Pragya Thakur expulsion, प्रज्ञा ठाकुर के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन, लाठी-डंडों के साथ कार्यालय के बाहर डटे रहे BJP कार्यकर्ता

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने बीजेपी कार्यालय घेरने की चेतावनी दी तो बीजेपी कार्यकर्ता लाठी-डंडों के साथ उनका अपने कार्यालय के बाहर इंतजार करने लगे. बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने टीवी 9 भारतवर्ष से कहा कि अगर कांग्रेस विधायक कार्यकर्ताओं के साथ बीजेपी कार्यालय आए और कोई असामाजिक गतिविधि की तो हमारे कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेंगे.

उन्होंने कहा कि अगर आज वो आए तो 6 दिसंबर को उनके कार्यालय पर मिठाई खिलाने के लिए बीजेपी कार्यकर्ता पहुंचेंगे. मेरी कमलनाथ से अपील है कि सिमी समर्थकों को समझाएं.

रामेश्वर शर्मा ने कहा, “सिमी आतंकवादी और उनके समर्थक अगर भाजपा कार्यालय पर गलत निगाह रख रहे हैं तो वह खबरदार हो जाएं. भाजपा कार्यकर्ता राष्ट्रवाद के लिए जीता और मरता है. हमारे कार्यालय की तरफ आंख उठाकर देखा तो उसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.”

उन्होंने कहा कि ‘लोकतंत्र में विरोध प्रदर्शन करने की सीमा होती है. विधायक बनने से गुंडा का टैग नहीं हटाया जा सकता. हम भी 6 दिसंबर को कांग्रेस कार्यालय जाएंगे. कोई मुर्दाबाद और जिंदाबाद के नारे नहीं लगाएंगे. जयश्री राम के नारे लगाएंगे और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मिठाई खिलाकर आएंगे.

दरअसल, कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने मंगलवार को ऐलान किया था कि वह साध्वी प्रज्ञा को बर्खास्त करने की मांग को लेकर बीजेपी कार्यालय ज्ञापन देने जाएंगे. इसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं की नाराजगी सामने आई है.

कांग्रेसी विधायक आरिफ मसूद के नेतृत्व में भाजपा कार्यालय की तरफ़ बढ़ रहे थे. पुलिस ने प्रगति पेट्रोल पम्प पर उन्हें रोक लिया. कांग्रेसी कार्यकर्ता प्रज्ञा ठाकुर को बर्खास्त करने की मांग के लिए भाजपा कार्यालय का घेराव करने निकले थे.

विवाद की स्थिति देख पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रोक लिया. वहीं, भाजपा कार्यालय में कार्यकर्ता लाठी-डंडे लेकर कांग्रेस का इंतजार कर रहे थे. दरअसल विरोध उस बात पर था कि साध्वी ने गोडसे को देशभक्त क्यों कहा था.इस मांग पर मसूद बीते 7 दिन से चरणबद्ध प्रदर्शन कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा को राहत, इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली जमानत

ED ने हुड्डा पर कसा शिकंजा, जमीन घोटाला मामले में 4 घंटे तक की पूछताछ

बिहार में युवती का अधजला शव बरामद होने पर भड़कीं राबड़ी, कानून-व्यवस्था पर उठाए सवाल

Related Posts