पुतला ही नहीं, प्रज्ञा ठाकुर यहां आईं तो उन्हें भी साथ-साथ जला देंगे: कांग्रेस विधायक

कांग्रेस विधायक ने कहा है कि 'प्रज्ञा ठाकुर कभी आई तो उसका पुतला नहीं बल्कि उसे पूरा-पूरा जला भी देंगे.'
MLA Govardhan Dangi, पुतला ही नहीं, प्रज्ञा ठाकुर यहां आईं तो उन्हें भी साथ-साथ जला देंगे: कांग्रेस विधायक

मध्य प्रदेश की ब्यावरा विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी ने भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को जलाने की धमकी दी है. दांगी ने कहा है कि ‘प्रज्ञा ठाकुर कभी आई तो उसका पुतला नहीं बल्कि उसे पूरा-पूरा जला भी देंगे.’

कांग्रेस विधायक ने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी की जयंती पर कई तरह के प्रोग्राम किए और पूरे देश में शांति का संदेश दिया. वहीं दूसरी तरफ बीजेपी का सांसद संसद में बैठकर महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त कह रहा है, यह दोहरी नीति है.

गौरतलब है कि प्रज्ञा ठाकुर ने बीते रोज लोकसभा में दिए अपने बयान पर उपजे विवाद पर गुरुवार को सफाई दी. प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि ‘उन्होंने ऊधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा, बस.’

भोपाल से सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने लोकसभा में चर्चा के दौरान कथित तौर पर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त करार दिया था. इस पर सियासी माहौल गर्माया हुआ है.

प्रज्ञा ने गुरुवार को ट्वीट किया, “कभी-कभी झूठ का बवंडर इतना गहरा होता है कि दिन में भी रात लगने लगती है. किंतु सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता, पलभर के बवंडर में लोग भ्रमित न हों, सूर्य का प्रकाश स्थाई है. सत्य यही है कि कल मैंने ऊधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा, बस.”

सांसद प्रज्ञा ठाकुर की इस सफाई से यही लग रहा है कि उन्होंने संसद में गोडसे नहीं, बल्कि ऊधम सिंह को देशभक्त करार दिया था.

वहीं, प्रज्ञा ठाकुर के विवादास्पद बयान पर कांग्रेस निंदा प्रस्ताव लाने के लिए प्रतिबद्ध है. प्रज्ञा ने बुधवार को लोकसभा में विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) विधेयक पर चर्चा के दौरान गोडसे पर बयान दिया था, जिसे बाद में संसद की कार्यवाही से हटा दिया गया.

कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद शशि थरूर ने कहा कि उन्होंने इस बाबत एक आवेदन का मसौदा तैयार किया है और वह जल्द ही विपक्षी पार्टियों से इस पर चर्चा करेंगे.

थरूर ने कहा कि ‘हमने बयान के लिए प्रज्ञा ठाकुर से तत्काल माफी की मांग की थी, लेकिन उन्होंने सदन से माफी नहीं मांगी, इसलिए हमारे पास निंदा प्रस्ताव लाने के अलावा और कोई उपाय नहीं बचा है.’

ये भी पढ़ें-

‘शिवसेना ने बाला साहब की आत्मा को सोनिया गांधी के हाथों गिरवी रख दिया, 10 जनपथ पर रगड़नी पड़ेगी नाक’

शपथ ग्रहण के तुरंत बाद हुई उद्धव सरकार की पहली कैबिनेट बैठक, लिया गया यह बड़ा फैसला

महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनने पर गोडसे भक्त उद्धव ठाकरे को बधाई: बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव

Related Posts