MP की पहली फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन तैयार, इससे गुजरकर ही मिलेगी दफ्तर में एंट्री

भोपाल में कार्यरत हर अधिकारी और कर्मचारी को फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन (Full body sanitization machine) के अंदर से गुजर कर ही कार्यालय में प्रवेश दिया जा रहा है.
Full body sanitization machine, MP की पहली फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन तैयार, इससे गुजरकर ही मिलेगी दफ्तर में एंट्री

भोपाल मध्यप्रदेश (Bhopal Madhya Pradesh) का पहला जिला है जिसने कोरोना वायरस (COVID-19) से जंग के लिए बनाए गए वार रूम को संक्रमण से मुक्त करने के लिए फुल बॉडी सेनेटाइज मशीन बनाई है. नगर निगम के इंजीनियर दो लाख की मशीन को मात्र एक दिन में सिर्फ 30 हजार की लागत में ही तैयार करके दिखाया है.

देखिये NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचाने के साथ-साथ अधिकारियों और कर्मचारियों को पूरी तरह सुरक्षित रखने के लिए प्रशासक नगर निगम भोपाल श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव की अभिनव पहल पर कार्य करते हुये आयुक्त नगर निगम भोपाल श्री विजय दत्ता ने मध्यप्रदेश की पहली फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन को स्मार्ट सिटी कार्यालय (Smart City Office) के मुख्य द्वार पर स्थापित किया गया है.

स्मार्ट सिटी में कार्यरत हर अधिकारी और कर्मचारी को फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन (Full body sanitization machine) के अंदर से गुजर कर ही कार्यालय में प्रवेश दिया जा रहा है. फुल बॉडी सेनेटाइजेशन मशीन से गुजरने पर अधिकारी और कर्मचारी पूरी तरह से संक्रमणों से मुक्त हो कार्यालय में प्रवेश कर अपने कार्यों और दायित्वों का निडर होकर पालन कर रहे हैं.

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और उसके उपाय के लिए शासन, प्रशासन और नगर निगम के शीर्ष अधिकारियों सहित संपूर्ण अमला कंट्रोल रूम के वार रूम से नागरिकों को हर संभव मदद के लिए 24×7 घंटे सेवा भाव से कार्य कर रहे हैं.

भोपाल शहर और प्रदेश भर की हर पल-हर क्षण की जानकारी/सूचना संकलित करने तथा नागरिकों को हर संभव सहायता और जागरूक करने के लिए भोपाल शहर और प्रदेश स्तरीय कंट्रोल रूम स्मार्ट सिटी में संचालित किया जा रहा है. स्मार्ट सिटी कार्यालय कंट्रोल रूम में बड़ी संख्या में शीर्ष अधिकारी और कर्मचारी कार्यरत है.

निजी कंपनी के सहयोग से तैयार की गई इस फुल बॉड़ी सेनेटाइजेशन मशीन (Full body sanitization machine) को डिप्टी कमिश्नर विनोद कुमार शुक्ल और असिस्टेंट यंत्री श्री हबीब उर रहमान की टीम द्वारा तैयार किया गया है. खास बात यह है कि इसे भोपाल में ही तैयार किया गया है. दो लाख रूपये से अधिक की कीमत वाली इस मशीन को नगर निगम के इंजीनियरों ने मात्र 30 हजार की लागत में तैयार किया गया है. मोशन सेंसर और स्पेयर की तकनीक से इसका संचालन किया जाता है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts