‘I Hope कि वो ना पहुंचे’… विकास दुबे के एनकाउंटर पर उज्जैन के एडिशनल SP का वीडियो वायरल

गुरुवार को विकास दुबे (Vikas Dubey) की उज्जैन (Ujjain) के महाकाल मंदिर (Mahakaal Temple) से गिरफ्तारी हुई. सबसे पहले मंदिर के बाहर एक फूल वाले को इस पर शक हुआ था, जिसके बाद उसने मंदिर के सिक्योरिटी गार्ड को फोन किया
Ujjain police know about Dubey's encounter, ‘I Hope कि वो ना पहुंचे’… विकास दुबे के एनकाउंटर पर उज्जैन के एडिशनल SP का वीडियो वायरल

कानपुर एनकाउंटर (Kanpur Encounter) का मुख्य आरोपी मॉस्ट वांटेड विकास दुबे (Vikas Dubey) आज यानी शुक्रवार को एनकाउंटर (Encounter) में मारा गया. यह एनकाउंटर उस समय हुआ जब एसटीएफ (Special Task Force) विकास दुबे को उज्जैन (Ujjain) से कानपुर ला रही थी. गुरुवार को विकास दुबे उज्जैन के महाकार मंदिर से गिरफ्तार हुआ था. अब इस बीच एक वीडियो सामने आया है, जिसे लेकर कई सवाल उठ रहे हैं.

‘आई होप कि वो ना पहुंचे’

इस वीडियो में उज्जैन एडिशनल एसपी रुपेश द्विवेदी, विकास दुबे को लेकर हंसते हुए दिख रहे हैं. यह कहते हुए सुनाई दिए कि ‘आई होप कि वो ना पहुंचे.’ इस वीडियो के सामने आने के बाद अब यह सवाल उठता है कि क्या उज्जैन पुलिस को पहले से मालूम था कि यूपी पुलिस बीच रास्ते में ही विकास दुबे का एनकाउंटर कर देगी?

Ujjain police know about Dubey's encounter, ‘I Hope कि वो ना पहुंचे’… विकास दुबे के एनकाउंटर पर उज्जैन के एडिशनल SP का वीडियो वायरल
PS- Ujjain ASP Video Grab

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

वहीं, कानपुर शूटआउट में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या को अपने गुर्गों के साथ अंजाम देने वाले कुख्यात विकास दुबे के एनकाउंटर को लेकर भी सवाल खड़े होने शुरू हो गए है. एक तरफ तो सोशल मीडिया से लेकर शहीद पुलिसकर्मियों के परिजन विकास दुबे के एनकाउंटर को सही ठहरा रहे हैं. तो वहीं कुछ राजनीतिक दल इस एनकाउंटर को लेकर उत्तर प्रदेस की योगी सरकार पर सवाल खड़े कर रहे हैं.

महाकाल मंदिर से हुई गिरफ्तारी

गौरतलब है कि गुरुवार को विकास दुबे की उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तारी हुई. सबसे पहले मंदिर के बाहर एक फूल वाले को इस पर शक हुआ था, जिसके बाद उसने मंदिर के सिक्योरिटी गार्ड को फोन किया और बताया कि ये शख्स विकास दुबे जैसे लग रहा है. इसके बाद प्राइवेट सिक्योरिटी वालों ने महाकाल चौकी में तैनात पुलिस को सूचना दी, जैसे ही वो निर्गम द्वार पर आया, तो उससे उसका नाम पूछा गया. पहले उसने अपना नाम छिपाया, लेकिन जब सख्ती से पूछा गया तब उसने बताया, “मैं विकास दुबे हूं.”

इसके बाद महाकाल मंदिर के सिक्योरिटी ने विकास दुबे को उज्जैन पुलिस को सौंप दिया. यहां विकास दुबे से घंटों पूछताछ हुई, जिसमें उसने कानपुर एनकाउंटर से जुड़े कई मामलों का खुलासा किया. उसने बताया कि चौबेपुर थाने और आसपास के थानों के पुलिसकर्मियों के साथ उसकी सांठ-गांठ थी. 2 जुलाई को पुलिस उसे गिरफ्तार करने आ रही है इसकी सूचना उसे पहले ही फोन के जरिए पता चल गई थी. इसके बाद उज्जैन पुलिस ने विकास दुबे को गुरुवार शाम एसटीएप के हवाले कर दिया और आज यानी शुक्रवार को एनकाउंटर में वह मारा गया.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts