दिग्विजय सिंह ने MP के मंत्रियों को लिखी चिट्ठी, मच गया सियासी हंगामा

दिग्विजय सिंह का कहना है कि उनके मंत्रियों को विभाग से संबंधित मामलों को लेकर लिखे गये पत्रों पर कार्रवाई नहीं हुई. अब इस चिट्ठी के जरिए...

कांग्रेस सांसद और वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने मध्य प्रदेश सरकार के सभी मंत्रियों को चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी से राज्य की सियासत एक बार फिर से गरमा गई है. दिग्विजय ने यह चिट्ठी ऐसे समय लिखी है जब उनके लिखे पत्रों पर मंत्रियों की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई.

दिग्विजय के पत्रों पर नहीं हुई कार्रवाई
दिग्विजय सिंह ने मंत्रियों को पत्र लिखकर उनसे 31 अगस्त से पहले मिलने के लिए समय देने का अनुरोध किया है. दिग्विजय का कहना है कि उनके मंत्रियों को विभाग से संबंधित मामलों को लेकर लिखे गये पत्रों पर कार्रवाई नहीं हुई. अब इस चिट्ठी के जरिए मंत्रियों से मिलकर समाधान निकालने का अनुरोध किया गया है.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार के मंत्रियों का रवैया पार्टी के लिए बड़ा सिरदर्द बना हुआ है. मंत्रियों की कार्यशैली को लेकर विधायकों की नाराजगी खुलकर सामने आ चुकी है. एक दिन पहले सपा विधायक राजेश शुक्ल ने वन मंत्री उमंग सिंघार के मिलने का समय नहीं देने को लेकर गुस्से का इजहार किया था.

मंत्रियों की संपत्ति भी बन रही मुद्दा
राज्य में मंत्रियों के रवैये के साथ ही अब उनकी संपत्ति भी मुद्दा बनती दिखाई दे रही है. प्रदेश के संसदीय कार्यमंत्री गोविंद सिंह ने कहा है कि मंत्रियों को अपनी संपत्ति को सार्वजनिक करना चाहिए, ताकि पारदर्शिता बनी रहे. उन्होंने सरकार में बैठे मंत्रियों के रवैये पर आपत्ति जताई है.

दूसरी तरफ, बीजेपी ने भी मंत्रियों के रवैये को लेकर कांग्रेस सरकार पर हमला बोला है. बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा है कि जब विधायक और सांसद दिग्विजय सिंह को अपने कामों के लिए मंत्रियों से अनुरोध करना पड़ा रहा है, तो आम आदमी की दुर्दशा का अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है.

ये भी पढ़ें-

अगले साल 15 अगस्त पर PoK में लहराएगा भारत का तिरंगा: दिलीप घोष

सपा सांसद आजम खान की बहन को पुलिस ने हिरासत में लिया, जानें क्या रही वजह

जम्मू-कश्मीर में जारी रहेगी ‘दरबार मूव’ की परंपरा, डोगरा राजाओं से हुई थी शुरुआत