MP: हनीट्रैप में फंसा वीडियो बना लेती थीं महिलाएं, पकड़ी गईं तो निकले नेताओं से करीबी रिश्‍ते

इंदौर पुलिस ने एटीएस की मदद से इस गिरोह का भंडाफोड़ किया है. आरोपियों के पास से 14 लाख 17 हजार रुपये और क्रेटा कार बरामद की गई है.

लोगों को अपने प्रेमजाल मे फंसाकर ब्लैकमेल करने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश करते हुए मध्य प्रदेश पुलिस ने पांच महिलाओं सहित एक पुरुष को गिरफ्तार किया है. आरोपियों के पास से 14 लाख 17 हजार रुपये और क्रेटा कार बरामद की गई है.

इंदौर की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रुचिवर्धन मिश्रा ने गुरुवार को मीडिया को बताया कि धमकाकर रकम वसूलने के आरोप में पांच महिलाओं और एक पुरुष को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से कार और नगदी भी बरामद की गई है.

तीन करोड़ रुपये की मांग की

उन्होंने बताया, “नगर निगम के अधिकारी की शिकायत पर इंदौर के पलासिया पुलिस थाने में ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया गया था. इसमें आरोप लगाया गया था कि एक महिला उससे दोस्ती करने के बाद उसे ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रही है. महिला ने कुछ रिकर्डिग भी कर ली थीं और तीन करोड़ रुपये की मांग की जा रही थी, मांगी गई रकम न देने पर वीडियो वायरल करने की धमकी दे रही है.”

पहली किस्त 50 लाख रुपये

एसएसपी के मुताबिक, पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया और जांच की. उसके बाद तीन करोड़ की रकम में से पहली किस्त के तौर पर 50 लाख रुपये लेने इंदौर आई एक युवती के साथ दो अन्य को एक महिला व एक पुरुष को हिरासत में लिया गया. ये लोग क्रेटा कार से भोपाल से इंदौर आए थे.

भोपाल के मीनाल रेसीडेंसी में रहने वाली युवती एक एनजीओ में काम करती है. उसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसकी एक सहेली ने उसे करीब आठ माह पहले नगर निगम इंदौर के अधिकारी से मिलवाया था. मुलाकात के बाद उन दोनों के बीच फोन पर बातचीत होने लगी.

मुलाकात के दौरान बना लिया वीडियो

बाद में इंदौर के होटल में दोनों की मुलाकात हुई. युवती ने उस दौरान वीडियो बना लिया. उसके बाद तीन करोड़ की रकम मांगी, रकम न देने पर वीडियो को वायरल करने की धमकी दी. इसके बाद पुलिस ने तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया.

इंदौर पुलिस ने एटीएस की मदद से इस गिरोह का भंडाफोड़ किया है. ये महिलाएं मीनाल रेसीडेंसी, कोटरा सुल्तानाबाद और रवेरा टाउन में रहती हैं. एक महिला तो पन्ना जिले से भाजपा विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह के आवास में किराए पर रहती है.

‘महिलाओं के राजनेताओं से करीबी रिश्ते’

पूर्व मंत्री व भाजपा विधायक सिंह का कहना है कि उन्होंने ब्रोकर के माध्यम से अपना मकान किराए पर दिया था, वे इस मामले की किसी भी स्तर से जांच कराए जाने के लिए तैयार हैं.

हनीट्रैप के मामले में जो महिलाएं पकड़ी गई हैं, उनका राजनीतिक दलों कांग्रेस और भाजपा में दखल है. एक महिला तो पदाधिकारी है और एक महिला का पति कांग्रेस में जिम्मेदार पद पर रहा है. इन महिलाओं के कई राजनेताओं से करीबी रिश्ते रहे हैं. एक महिला का एक अश्लील वीडियो भी वायरल हो चुका है.

वीडियो रिकॉर्डिंग और सीडी बरामद

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, गिरफ्तार की गईं महिलाओं के पास से पुलिस ने लैपटॉप, मोबाइल, महत्वपपूर्ण दस्तावेज और संदिग्ध वीडियो रिकॉर्डिंग और सीडी बरामद की गई हैं. पुलिस ने बरामद सामग्री की एफएसएल से जांच कराए जाने की बात कही है.