ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर पूछा सवाल तो झल्लाईं इमरती देवी, कहा- चलो हटाओ माइक

इमरती देवी ने कहा कि 'सिंधिया क्यों नहीं चलेंगे, दिग्विजय क्यों नहीं चलेंगे, कमलनाथ क्यों नहीं चलेंगे, क्या ये अलग हैं. प्रदेश के सारे नेता एक हैं.'
Imrati Devi angry, ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर पूछा सवाल तो झल्लाईं इमरती देवी, कहा- चलो हटाओ माइक

मध्य प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी रविवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर पूछे गए सवाल पर गुस्सा हो गईं. इमरती को मीडिया के एक सवाल से इतना गुस्सा आया कि उन्होंने मीडियाकर्मियों के माइक को अपने हाथ से हटाते हुए ये कह दिया कि चलो, हटाओ माइक.

एक मीडियाकर्मी ने इमरती देवी से पूछा कि ‘सुनने में आ रहा है कि कांग्रेस प्रदेश में किसी आदिवासी चेहरे को अध्यक्ष रूप में लाना चाह रही है.’ इस पर वो गुस्सा हो गईं और कहा कि ‘ये कहां-कहां की बातें पूछ रहे हो, ये तो पुरानी बातें हो गई, कोई अच्छी बात पूछो.’

कांग्रेस नेता से यही सवाल फिर से पूछा गया. इस पर उन्होंने तीखे अंदाज में कहा कि ‘सिंधिया क्यों नहीं चलेंगे, दिग्विजय क्यों नहीं चलेंगे, कमलनाथ क्यों नहीं चलेंगे, क्या ये अलग हैं. प्रदेश के सारे नेता एक हैं. बस माइक हटा लो.’

मालूम हो कि इमरती देवी को पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का कट्टर समर्थक माना जाता है. वो कई बार अलग-अलग मुद्दों पर सिंधिया के पक्ष में अपनी बात रखती रही हैं. इमरती देवी ने रविवार को अल्प प्रवास पर दमोह पहुंची थीं.

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश कांग्रेस में इन दिनों ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री कमलनाथ के बीच सियासी खींचतान चल रही है. दोनों नेताओं के समर्थक हालात को लेकर चिंतित हैं. साथ ही इस बात की चिंता केंद्रीय आलाकमान को भी सता रही है.

वहीं, ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अतिथि शिक्षकों का समर्थन किए जाने और उनके साथ सड़क पर उतरने का बयान दिए जाने और मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा तल्ख प्रतिक्रिया देने के बाद कांग्रेस में तकरार बढ़ गई है. सिंधिया समर्थक मंत्रियों ने जहां सिंधिया के बयान का समर्थन किया है, तो वहीं दूसरे खेमे से नाता रखने वाले मंत्रियों ने आपस में बैठकर बातचीत करने की सलाह दी है.

सिंधिया समर्थक दो मंत्रियों इमरती देवी और प्रद्युम्न सिंह तोमर ने खुलकर उनकी पैरवी की. इमरती देवी ने कहा, “अगर सिंधिया सड़क पर उतरे तो पूरी कांग्रेस सड़क पर होगी, वैसे ऐसा करने की नौबत नहीं आएगी.”

ये भी पढ़ें-

MP: पति की अस्थियां लेकर धरने में पहुंची महिला, आर्थिक तंगी से गेस्ट टीचर ने की थी आत्महत्या

जामिया से वायरल हुआ एक और Video, हाथों में पत्थर, चेहरे पर नकाब लगाए हुए दिखे लोग

Related Posts