राजगढ़ थप्पड़ कांड: हाई कोर्ट ने कलेक्टर निधि निवेदिता को जारी किया नोटिस, 4 हफ्ते में मांगा जवाब

अतिरिक्त महाधिवक्ता रविंद्र सिंह छाबड़ा ने कहा कि 'पहले महिला अधिकारी की चोटी खींची गई. उसके बाद यह सारा घटनाक्रम हुआ.'

राजगढ़ थप्पड़ कांड पर इंदौर हाई कोर्ट ने मुख्य सचिव मध्य प्रदेश शासन, प्रमुख सचिव गृह मंत्रालय और राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा है. इसके लिए चार हफ्ते का समय दिया गया है. एडवोकेट हर्षवर्धन शर्मा की ओर से हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई थी.

इस याचिका पर पूर्व उपमहाधिवक्ता पुष्य मित्र भार्गव ने पक्ष रखा. उन्होंने कलेक्टर के कृत्य को असंवैधानिक बताते हुए कार्रवाई की मांग की.

कलेक्टर निधि निवेदिता के बचाव में अतिरिक्त महाधिवक्ता रविंद्र सिंह छाबड़ा ने अपने तर्क दिए. छाबड़ा ने कहा कि पहले महिला अधिकारी की चोटी खींची गई. उसके बाद यह सारा घटनाक्रम हुआ.

हाई कोर्ट के अभिभाषक हर्ष वर्धन शर्मा ने कलेक्टर निधि निवेदिता और डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा के मार पीट करने के कृत्य को गलत बताया. उन्होंने कहा कि एक शांतिप्रिय कार्यक्रम को अप्रत्याशित दुखद घटना में बदल देने के लिए कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर जिम्मेदार हैं.

वहीं,  बीजेपी सरकार में राज्य मंत्री रह चुके बद्रीलाल यादव ने राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता को लेकर विवादित बयान दिया है. अपने बयान पर बद्रीलाल ने कहा कि मैंने अपने बयान में कुछ गलत नहीं कहा है.

बता दें कि मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले के ब्यावरा में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे एक युवक को कलेक्टर निधि निवेदिता ने थप्पड़ जड़ दिया था. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था.

राजगढ़ के ब्यावरा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने स्थानीय लोगों के साथ सीएए के समर्थन में रविवार को रैली निकालने का ऐलान किया था. रैली में शामिल लोगों और प्रशासन के अधिकारियों के बीच जमकर धक्का-मुक्की हुई. इस दौरान डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा से झूमा-झपटी हुई. वहीं जिलाधिकारी निधि निवेदिता ने प्रदर्शनकारी को थप्पड़ ही जड़ दिया.

प्रदर्शनकारी को थप्पड़ मारते ही विवाद बढ़ गया और स्थिति बिगड़ने लगी तो पुलिस जवानों ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर बल प्रयोग किया. जिलाधिकारी निधि निवेदिता द्वारा प्रदर्शनकारी को थप्पड़ मारने और डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा द्वारा प्रदर्शनकारियों को खींचने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

ये भी पढ़ें-

गंगा यात्रा में शामिल होने दोबारा कानपुर जाएंगे PM मोदी, जोरशोर से चल रही तैयारी

निर्भया गैंगरेप: फांसी में देरी पर SC पहुंची सरकार, कहा- दया याचिका दाखिल करने को मिले 7 दिन

कुछ बात ऐसी जो बता नहीं सकती… लिखकर Atlas साइकिल कंपनी की मालकिन ने किया सुसाइड