MP: मालवा-निमाड़ के उपचुनाव पर ज्योतिरादित्य सिंधिया की पैनी नजर

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भले ही BJP में आ गए हों, लेकिन उनका कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) से राजनीतिक मुकाबला काफी पुराना है, क्योंकि दोनों मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव में कई बार आमने-सामने हो चुके हैं. लेकिन अब स्थितियां बदली हैं.
Jyotiraditya Scindia in Malwa-Nimar, MP: मालवा-निमाड़ के उपचुनाव पर ज्योतिरादित्य सिंधिया की पैनी नजर

मध्य प्रदेश (MP) में आने वाले समय में होने वाले विधानसभा के उपचुनाव (Assembly by-Elections) को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की सक्रियता बढ़ रही है. इन चुनावों को लेकर उनकी मालवा-निमाड़ जोन पर पैनी नजर भी है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ 22 विधायकों ने कांग्रेस (Congress) का दामन छोड़ दिया था और कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) गिर गई थी, उसके बाद तीन और विधायकों ने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया. इसके अलावा दो विधायकों का निधन हो गया. यानी कुल मिलाकर 27 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव होने वाले हैं.

कैलाश विजयवर्गीय और सिंधिया

राज्य के जिन क्षेत्रों में उपचुनाव होने वाले हैं, उनमें सात क्षेत्र निमाड़-मालवा से हैं. आगर मालवा, हाटपिपल्या, बदनावर, सांवेर, सुवासरा, मांधाता और नेपानगर सीटों पर होने वाले उपचुनाव BJP के लिए काफी अहम हैं. इन विधानसभा क्षेत्रों का प्रभारी BJP के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) को बनाया गया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

सिंधिया भले ही BJP में आ गए हों, लेकिन उनका विजयवर्गीय से सियासी मुकाबला काफी पुराना है, क्योंकि दोनों मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव में कई बार आमने-सामने हो चुके हैं. लेकिन अब स्थितियां बदली हैं और दोनों ही एक राजनीतिक दल यानी BJP में हैं.

सिंधिया दोबारा आ रहे मालवा

BJP का दामन थामने और राज्यसभा का सदस्य निर्वाचित होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का पिछले दिनों मालवा का एक दौरा हो चुका है, और वे देवास के हाटपिपल्या में हुए एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के साथ मौजूद भी रहे.

अब वह दोबारा मालवा आ रहे हैं, और 17 अगस्त को उनका इंदौर और उज्जैन में कार्यक्रम होना है. वे यहां धार्मिक आयोजनों में हिस्सा लेने के अलावा कई नेताओं से मेल-मुलाकात भी करने वाले हैं.

BJP के बड़े नेताओं से करेंगे मुलाकात

इस दौरान सिंधिया इंदौर और उज्जैन में BJP के तमाम बड़े नेताओं से मुलाकात करेंगे. नेताओं में शामिल हैं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, सांसद शंकर लालवानी और अनिल फिरौदिया. इसके अलावा मंत्री उषा ठाकुर से भी सिंधिया मुलाकात करने वाले हैं. सिंधिया की इन मुलाकातों को सियासी तौर पर काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. मालवा-निमाड़ (Malwa-Nimar) वह इलाका है जहां सिंधिया राजघराने का प्रभाव रहा है.

चुनाव में करना चाहते हैं अपने प्रभाव का इस्तेमाल

मालवा क्षेत्र के राजनीतिक जानकार जिनेंद्र सुराना (Jinendra Surana) का मानना है कि मालवा-निमाड़ के उपचुनाव सिंधिया की प्रतिष्ठा से जुड़े हुए हैं, क्योंकि यह क्षेत्र कभी उनके परिवार की रियासत (परिवार राज) का हिस्सा रहा है. लिहाजा वे अपने प्रभाव का उपचुनाव में इस्तेमाल करना चाहेंगे, इसके लिए BJP नेताओं के साथ कोऑर्डिनेट करना भी बेहद जरूरी है.

पिछले चुनावों पर गौर करें तो, सिंधिया अपने समर्थकों को भी चुनाव जिताने में नाकाम रहे थे. इस बार ऐसा न हो, इसे खुद सिंधिया एक बड़ी चुनौती के तौर पर देख रहे होंगे. (IANS)

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts