मध्य प्रदेश: खाद के लिए अन्नदाता उतरा सड़कों पर, हाई-वे जाम कर थाने को घेरा

नाराज किसानों का कहना था कि पहले तो कमलनाथ सरकार ने 2 लाख रुपये तक का किसानों का कर्ज माफ करने का उनके साथ धोखा किया और अब यूरिया खाद के लिए उन्हें दर-दर भटकना पड़ रहा है.

अन्नदाता किसान यूरिया खाद के लिए आज सड़कों पर आ गया है. इतना ही नहीं उसने हाई-वे जाम कर थाने का घेराव तक किया, लेकिन किसान का दुर्भाग्य है कि उसे उसके बाद भी यूरिया खाद नसीब नहीं हुआ. हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश के देवास जिले के खातेगांव कस्बे की, जहां बीते कई दिनों से यूरिया खाद की किल्लत बनी हुई है.

ऐसी परिस्थितियों में किसानों को यूरिया खाद प्राप्त करने के लिए जमकर मशक्कत करना पड़ रही हैं, तब कहीं जाकर बड़ी मुश्किल से उसे 2 बोरी यूरिया खाद मिल पा रहा है. हद तो तब हो गई जब आज यूरिया खाद के लिए पुलिस थाने में लाइन में लगे किसानों को मालूम पड़ा कि दुकान पर यूरिया खाद समाप्त हो गया है,अब उन्हें यूरिया खाद नहीं मिलेगा.

यह सुनते ही किसानों का गुस्सा फूट पड़ा और वह सड़कों पर पहुंच गए. देखते-देखते हाई-वे जाम हो गया. वहीं कुछ किसानों ने थाने का घेराव तक कर डाला. पुलिस थाने पर मौजूद पुलिस कर्मचारियों ने जैसे-तैसे किसानों को समझाइश देकर मामला तो टाल दिया, लेकिन किसान मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को कोसते नजर आए.

नाराज किसानों का कहना था कि पहले तो कमलनाथ सरकार ने 2 लाख रुपये तक का किसानों का कर्ज माफ करने का उनके साथ धोखा किया और अब यूरिया खाद के लिए उन्हें दर-दर भटकना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ें: कैंसर को मात देने के बाद मनीषा कोइराला ने शेयर की रिकवरी फोटो