मोदी-शाह के पैर धोकर पानी भी पिएं तो आपत्ति नहीं- बोले मध्यप्रदेश के मंत्री जीतू पटवारी

मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मोदी-शाह की पूजा वाला बयान क्या दिया, कांग्रेस की तरफ से तीखा हमला बोल दिया गया. पढ़िए क्या कहा कमलनाथ के मंत्री जीतू पटवारी ने.

जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले के बाद मध्य प्रदेश की सियासत में वार-पलटवार का दौर चल पड़ा है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कल ही कहा था कि पहले तो वो मोदी और अमित शाह को अपना नेता मानते थे और श्रद्धा की दृष्टि से उन्हें देखते थे मगर इस कदम के कारण अब वो उनकी पूजा करते हैं. अब कांग्रेस की ओर से ज़ोरदार जवाब आया है.

कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने ट्विटर पर लिखा कि- शिवराज जी, आप भाजपा में अपनी “साख” खत्म होने के डर से उसे बचाने के लिए मोदी-शाह की पूजा तो क्या उनके पैर धोके पानी पियो तो भी हमें कतई आपत्ति नहीं..  लेकिन देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी पर टिप्पणी बार बार टिप्पणी आपके “मानसिक दिवालियापन” को दर्शा रहा है..

पटवारी ने एक और ट्वीट में लिखा- मप्र की सत्ता से बेदखल होने के बाद BJP में अपना “अस्तित्व” बचाने के लिए मोदी-शाह की चापलूसी में मशगूल शिवराज चौहान जी मप्र की मर्यादा का ख्याल रखें.. आप 13 साल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे, मप्र की जनता को पहले एहसास था कि मुख्यमंत्री चुना लेकिन क्या पता था कि चापलूस चुना..

 आपको बता दें कि जीतू पटवारी शिवराज के उस बयान की प्रतिक्रिया में ट्वीट कर रहे हैं जो उन्होंने कल दिया था. शिवराज ने मोदी-शाह को पूजा के लायक तो बताया ही था, साथ में नेहरू को अपराधी तक करार दे दिया था.