मध्य प्रदेश: प्रद्युम्न सिंह ने थामा BJP का दामन, Exclusive बातचीत में बताई कांग्रेस छोड़ने की वजह

कांग्रेस को छोड़कर BJP ‌का दामन थामने वाले बड़ा मलहरा से कांग्रेस विधायक रहे प्रद्युम्न सिंह लोधी ने टीवी 9 भारतवर्ष से एक्सक्लूसिव बातचीत की. पढ़ें प्रद्युम्न लोधी से किए गए सवाल-जवाब
Pradyuman Singh Lodhi, मध्य प्रदेश: प्रद्युम्न सिंह ने थामा BJP का दामन, Exclusive बातचीत में बताई कांग्रेस छोड़ने की वजह

प्रद्युम्न सिंह लोधी कांग्रेस का साथ छोड़कर BJP में शामिल हो गए हैं. कांग्रेस से BJP में आने की एक अहम वजह लोधी वोट बैंक को माना जा रहा है. प्रद्युम्न सिंह लोधी मध्य प्रदेश में लोधी समाज के प्रदेश अध्यक्ष हैं. उमा भारती, प्रहलाद सिंह पटेल, लोधी समाज के बड़े लीडर माने जाते हैं. गौरतलब है कि मंत्री मंडल विस्तार के दिन उमा भारती ने यह कहकर आपत्ति भी जताई थी कि इस विस्तार में जातिगत संतुलन का ध्यान नहीं रखा गया है और अब प्रद्युम्न लोधी के जरिए आने वाले उपचुनाव में BJP लोधी वोट बैंक को साधने की पूरी कोशिश करेगी.

इसके अलावा कांग्रेस में प्रद्युम्न सिंह लोधी के दो भाई तारवर लोधी और राहुल लोधी भी विधायक हैं, जिनके BJP में आने की सुगबुगाहट है. कांग्रेस को छोड़कर BJP ‌का दामन थामने वाले बड़ा मलहरा से कांग्रेस विधायक रहे प्रद्युम्न सिंह लोधी ने टीवी 9 भारतवर्ष से एक्सक्लूसिव बातचीत की.

सवाल- आप क्यों आए कांग्रेस से BJP में, अचानक मोहभंग की वजह क्या है?

जवाब- मैं विकास की वजह से आया हूं, मोहभंग जैसी बात नहीं है. जनता के वोट का कर्ज चुकाना है. बुंदेलखंड क्षेत्र से लगातार पलायन चल रहा है. एक 450 करोड़ की सिंचाई परियोजना है जो लंबे समय से स्वीकृत नहीं हो रही थी. वहां किसान मजदूर बना हुआ है. अब इस सरकार ने सिंचाई परियोजना मंजूर कर दी है. शिवराज सिंह चौहान और उमा भारती जी 10 दिन बाद इसका भूमिपूजन करेंगे. हम बुंदेलखंड को मालवा बनाएंगे.

सवाल- तो आपके आने की वजह क्या है? परियोजना?

जवाब- पद महत्वपूर्ण नहीं है, काम महत्वपूर्ण है, विधायक को जनता चुनती है काम के लिए, अगर आप जनता के काम नहीं करवा सकते तो पद किस काम का?

सवाल- तो आपके BJP में आने की शर्त पर परियोजना मंजूर हुई?

जवाब- आपने पिछला कार्यकाल तो देखा होगा, बुंदेलखंड में कोई परियोजना मंजूर नहीं हुई, ये सरकार घाटे में चल रही है फिर भी हमारे लिए परियोजना मंजूर की गई.

सवाल- तो एक परियोजना की वजह से आप आए?

जवाब- परियोजना तो पहले ही मंजूर कर ली गई थी. किसी ने मुझे प्रेरित नहीं किया. बुंदेलखंड के लिए परियोजना जरूरी थी क्योंकि पलायन हो रहा था. पहले मैं चाहता था कि परियोजना स्वीकार हो जाए, जनता वोट विकास के लिए देती है. वहां का क्षेत्र 1857 में पड़ा हुआ है. तो हम चाहते हैं कि क्षेत्र का विकास हो, हमारी बली लग जाए तो भी विकास जरूरी है.

सवाल- उपचुनाव लड़ेंगे क्या?

जवाब- ये पार्टी तय करेगी चुनाव कौन लड़ेगा, अगर जनता को लगेगा तो देखेंगे.

सवाल- आपके साथ और लोग भी आएंगे BJP में?

जवाब- ऐसी मेरी भावना नहीं है कि और लोग आएं, लेकिन वो लोग देखेंगे और अगर वो जनता की सेवा करना चाहते हैं तो वो मूल्यांकन करेंगे.

सवाल- तो पिछली सरकार ने आपकी नहीं सुनी?

जवाब- अब बातें कई प्रकार की होती हैं, कई लोग कई बातें करते हैं, हमारा काम है हमारी बात को रखना, माना जाए या ना माना जाए. मैं तो कहता रहा पर बात आज मानी गई.

सवाल- क्या सिंधिया जी के 22 विधायकों की तरह आप भी ये समझते हैं कि कमलनाथ जी सुनते नहीं हैं?

जवाब- कमलनाथ जी पर कोई आरोप नहीं लगा‌ सकता, कमलनाथ जी बहुत अच्छे आदमी हैं और बहुत सुलझे हुए राजनीतिज्ञ हैं. परंतु राजनैतिक परिस्थितियां बनती हैं. कमलनाथ जी बहुत सीनियर हैं, हम उनका जीवनभर आदर करेंगे.

सवाल- जब कांग्रेस सरकार गिरी थी तो कमलनाथ जी के इस्तीफे पर आप रोए थे?

जवाब- कमलनाथ जी से मेरा काफी स्नेह है. आज जो परिस्थितियां हैं वो अलग हैं. आप स्वयं देख रहे हैं. राजस्थान में क्या चल रहा है, देख ही रहे हैं. मैं डिटेल में नहीं जाना चाहता.

सवाल- क्या आपके इस कदम की वजह दिग्विजय सिंह हैं?

जवाब- मैं किसी पर आरोप नहीं लगाता.‌ जनता सर्वोपरि है, कांग्रेस की कमियों पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा.

Related Posts