MP PSC में भील समाज को लेकर पूछे गए सवाल के मामले में केस दर्ज

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अजाक थाने में रवि बघेल ने पीएससी अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दी थी.
Madhya Pradesh Public Service Commission, MP PSC में भील समाज को लेकर पूछे गए सवाल के मामले में केस दर्ज

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) की परीक्षा में भील समाज को लेकर पूछे गए सवाल से उपजे विवाद के बाद अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. आदिवासियों के प्रतिनिधि की शिकायत पर इंदौर के आदिम जाति कल्याण थाने में के दर्ज हुआ है.

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अजाक थाने में रवि बघेल ने पीएससी अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दी थी. इसके आधार पर अनुसूचित जाति एवं जनजाति अधिनियम 1989 (संशोधन) की विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया गया है.

मालूम हो कि एमपीपीएससी द्वारा रविवार को प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की गई थी. इस परीक्षा में भील समाज की निर्धनता को लेकर एक गद्यांश दिया गया और सवाल पूछे गए.

सवाल में कहा गया, “आय से अधिक खर्च होने पर वे आर्थिक तौर पर विपन्न होते हैं.” निर्धनता का कारण आपराधिक प्रवृत्ति को भी बताया गया था, साथ ही कहा गया कि इसके चलते वे अपनी सामान्य आय से देनदारी पूरी नहीं कर पाते.

भील समाज को लेकर पूछे गए सवालों पर सियासत भी तेज हो गई थी. मंगलवार को भील समाज से संबंधित सभी सवाल हटाने का फैसला आयोग ने लिया था. अब आयोग के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है.

पीएससी के सवाल से राज्य की सियासत में गर्माहट आ गई थी. लगातार बयानबाजी हो रही थी और इसके लिए सीधे तौर पर आयोग को जिम्मेदार ठहराया जा रहा था.

इसके चलते मंगलवार को आयोग ने अधिसूचना जारी करते हुए भील समाज से जुड़े गद्यांश के आधार पर पांचों प्रश्नों को विलोपित कर दिया गया है. परीक्षा के नतीजों के लिए गणना किस तरह की जाएगी, इसका खुलासा अभी आयोग ने नहीं किया है.

ये भी पढ़ें-

यूपी: रिश्तेदारी में मकर संक्रांति मनाने आई थी चार साल की मासूम, दरिंदे ने किया बलात्कार

जिससे करता था प्यार, उसकी हत्या कर टीवी पर कबूला अपराध, पुलिस ने स्टूडियो से किया गिरफ्तार

विविधता से एकता है, हम वो नहीं जो एकता में विविधता खोजते हैं- संघ प्रमुख मोहन भागवत

Related Posts