पुलिस अधिकारियों के बाद कमलनाथ सरकार में कुत्तों का ट्रांसफर

तबादलों की इस सूची से मुख्यमंत्री कमलनाथ का गृह जिला भी अछूता नहीं रहा. खोजी कुत्तों के ट्रांसफर आदेश जारी होने के बाद से प्रदेश में इस मामले को लेकर राजनीति गर्मा गई है.
mp police dog transfer, पुलिस अधिकारियों के बाद कमलनाथ सरकार में कुत्तों का ट्रांसफर

भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने अधिकारियों और कर्मचारियों का तबादला करने के बाद अब पूरे प्रदेश से कुत्तों का भी ट्रांसफर कर दिया है. मध्य प्रदेश पुलिस विभाग ने डॉग हैंडलर्स के खोजी कुत्तों का ट्रांसफर का आदेश जारी किया.

शुक्रवार को 23वीं वाहिनी विशेष सशस्त्र बल में 46 डॉग हैंडलर के ट्रांसफर के आदेश जारी हुए हैं. इन डॉग हैंडलर्स को उनके खोजी कुत्तों के साथ ही ट्रांसफर किया गया है. इससे 46 खोजी कुत्ते प्रभावित हुए हैं. इनमें स्निफर, नार्को और ट्रेकर कुत्ते शामिल हैं. इसमें डफी समेत चार कुत्तों का ट्रांसफर मुख्यमंत्री हाउस किया गया है. सीएम हाउस की सुरक्षा की जिम्मेदारी अब इन्हीं कुत्तों की होगी.

तबादलों की इस सूची से मुख्यमंत्री कमलनाथ का गृह जिला भी अछूता नहीं रहा. सीएम कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा से डफी नाम के स्निफर डॉग को भोपाल के मुख्यमंत्री आवास भेजा गया है. खोजी कुत्तों के ट्रांसफर आदेश जारी होने के बाद से प्रदेश में इस मामले को लेकर राजनीति गर्मा गई है.

BJP नेताओं ने कही ये बात

प्रदेश के विपक्षी दल बीजेपी ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है. BJP के प्रदेश उपाध्यक्ष और भोपाल की हुजूर विधानसभा क्षेत्र से विधायक रामेश्वर शर्मा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘हाय रे बेदर्दी कांग्रेस सरकार कुत्तो को तो छोड़ देते … ! पुलिस विभाग ने किए कुत्तो के थोकबंद तबादले. कांग्रेस की कमलनाथ सरकार का वश चले और कोई माल देने वाला मिल जाए तो वो जमीन और आसमान का स्वयं के व्यय पर तबादला कर दे.’

कुत्तों के ट्रांसफर पर सवाल उठाए जाने पर वित्त मंत्री तरुण भनोत ने कहा है कि कुत्तों के ट्रांसफर पर सवाल उठाना मानसिक संकीर्णता है. सभी तबादले प्रशासनिक व्यवस्था के तहत किए गए हैं.

वहीं BJP के प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लूनावत ने ट्वीट कर कहा, ‘वाह री कमलनाथ सरकार तबादला उद्योग में कुत्तों को भी नही छोड़ा. मध्यप्रदेश में डॉग स्क्वाड के ट्रांसफर’.

Related Posts