MP: विधायक बिसाहूलाल सिंह की ‘घर वापसी’, बोले- तीर्थ करने गया था

मध्य प्रदेश कांग्रेस (MP Congress) की तरफ से बताया गया कि विधायक बिसाहूलाल सिंह (Bishaulal Singh) कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) सुरेंद्र सिंह बघेल (Surendra Singh Baghel) के साथ बेंगलुरु से भोपाल के लिए रवाना हो गए.
MP MLA Bisahulal Singh brought from Bangalore to Bhopal, MP: विधायक बिसाहूलाल सिंह की ‘घर वापसी’, बोले- तीर्थ करने गया था

पिछले कुछ दिनों पहले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में शुरू हुई राजनीतिक उठापटक के बाद अब स्थिति कुछ सामान्य होती नजर आ रही है. इसी कड़ी में लापता अनूपपुर (Anuppur) से विधायक बिसाहूलाल सिंह (Bishaulal Singh) की वापसी हो चुकी है और वो सीएम हाउस (CM House) पहुंच चुके हैं. वे रविवार को कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) सुरेंद्र सिंह बघेल (Surendra Singh Baghel) के साथ इंदौर एयरपोर्ट (Indore Airport) पहुंचे. इसी के साथ कांग्रेस की तरफ से लगाए जा रहे कयास भी सही साबित हुए कि बिसाहूलाल बेंगलुरु (Bengaluru) में हैं.


दरअसल रविवार दोपहर को मध्य प्रदेश कांग्रेस (MP Congress) की तरफ से एक बयान जारी किया गया, जिसमें बताया गया कि वरिष्ठ विधायक बिसाहूलाल सिंह (Bishaulal Singh) कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) सुरेंद्र सिंह बघेल (Surendra Singh Baghel) के साथ बेंगलुरु (Bengaluru) से भोपाल (Bhopal) के लिए रवाना हो गए.

‘3 दिन से BJP के चंगुल में फंसे’

कांग्रेस (Congress) के इस बयान में कहा गया, “विधायक बिसाहूलाल पिछले 3 दिनों से बेंगलुरु में भाजपा (BJP) के चंगुल में फंसे हुए थे. बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि मैं शुरू से ही कांग्रेस के साथ हूं और कांग्रेस के साथ ही रहूंगा और मेरा पूरा समर्थन सीएम कमलनाथ (CM kamal Nath) के साथ है.

बिसाहूलाल बोले, “तीर्थ करने गया था”

विधायक बिसाहूलाल सिंह ने सीएम आवास से बाहार निकल कर मीडिया से बात की. इस दौरान उन्होंने कहा, “मैं तीर्थ करने गया था. हमको किसी ने बंधक नहीं बनाया था. हम बिल्कुल सरकार के साथ हैं. हमें मंत्री बनाने का काम मुख्यमंत्री का है.” इस दौरान उनके साथ राज्य के वित्त मंत्री (Finance Minister) तरुण भनोट (Tarun Bhanot) भी मौजूद रहे.

कई दिनों से लापता थे विधायक

मालूम हो कि कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल बीते गुरुवार से लापता थे, जिसके बाद भोपाल (Bhopal) के टीटी नगर थाने में उनकी गुमशुदगी की FIR भी दर्ज कराई गई थी. राज्य में चल रही राजनीतिक खींचतान के दौरान कांग्रेस ने हार्स ट्रेडिंग (Horse trading) के चलते बिसाहूलाल के गुम होने की आशंका जताई थी. दावा किया जा रहा था कि बिसाहूलाल सिंह बेंगलुरु (Bengaluru) में हैं.

Related Posts