मध्य प्रदेश: ओरछा के रामराजा मंदिर में दर्शन के लिए ऑनलाइन मिलेगा टिकट

मंदिर में भीड़ न बढ़े इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग (online booking) कर टिकट हासिल करना होगा. दर्शनार्थी को ऑनलाइन आवदेन करना होगा कि उसे किस दिन और किस समय दर्शन करने आना है, उसी आधार पर टिकट जारी किया जाएगा.
online ticket booking in orcha ramraja mandir, मध्य प्रदेश: ओरछा के रामराजा मंदिर में दर्शन के लिए ऑनलाइन मिलेगा टिकट

बुंदेलखंड की अयोध्या (Ayodhya) कहे जाने वाले ओरछा में स्थित रामराजा के मंदिर में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को ऑनलाइन बुकिंग कर टिकट लेना हागा, उसके बाद ही दर्शन मिल सकेगा. हालांकि टिकट के लिए किसी तरह का शुल्क नहीं लगेगा. मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले के ओरछा में प्रसिद्ध रामराजा मंदिर स्थित है. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के चलते उठाए गए एहतियाती कदमों के कारण यहां दर्शन बंद कर दिया गया था, लेकिन नियमित पूजा हो रही है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

दर्शनार्थियों के बड़ी संख्या में आने की संभावना को देखते हुए की जा रही है व्यवस्था

आठ जून से मंदिर श्रद्धालुओं के लिए पुनः खोले जा रहे हैं, मगर किसी तरह की भीड़ न हो  साथ ही केंद्र और राज्य सरकार के दिशानिर्देश का उल्लंघन हो इसके लिए प्रशासन ने कुछ खास इंतजाम किए है. निवाड़ी के जिलाधिकारी अक्षय कुमार सिंह ने बताया कि मंदिर में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन किया जाएगा. साथ ही यहां आने वाले हर दर्शनार्थी का तापमान चेक किया जाएगा. मंदिर में सैनिटाइजेशन की व्यवस्था रहेगी और दर्शनार्थी को मास्क का इस्तेमाल ज़रूर करना होगा.

सिंह ने आगे बताया कि “मंदिर में भीड़ न बढ़े इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग कर टिकट हासिल करना होगा. दर्शनार्थी को ऑनलाइन आवदेन करना होगा कि उसे किस दिन और किस समय दर्शन करने आना है, उसी आधार पर उसे टिकट जारी किया जाएगा. मंदिर में प्रवेश के समय ही दर्शनार्थी के आईडी कार्ड के जरिए उसका मैच किया जाएगा.”

दर्शनार्थी ऑनलाइन कर सकेंगे दान 

सिंह का कहना था, “दर्शनार्थी से किसी तरह के शुल्क का प्रावधान नहीं किया गया है, मगर ऑनलाइन टिकट लेते वाले आवेदन में एक कॉलम दान का भी है. भारतीय परंपराओं के अनुसार, लोग दान में भरोसा करते हैं, इसलिए यह प्रावधान किया गया है. दर्शनार्थी ऑनलाइन टिकट के लिए आवदेन करते वक्त दान भी कर सकेगा.”

ओरछा के 500 वर्ष के इतिहास में पहली बार श्रीरामराजा मंदिर में 17 मार्च से दर्शनार्थियों का प्रवेश निषेध था. कोरोना को लेकर सतर्कता बरतते हुए नगर के ऐतिहासिक स्मारक और मंदिर राज्य पुरातत्व विभाग के आदेश पर बंद थे. 85 दिन बाद मंदिर को खोला जा रहा है. इसके चलते यहां दर्शनार्थियों के बड़ी संख्या में आने की संभावना को देखते हुए यह व्यवस्था की जा रही है. रामराजा मंदिर देश का इकलौता ऐसा मंदिर है, जहां भगवान राम को राजा के तौर पर पूजा जाता है. उन्हें तीनों पहर पुलिस के जवान सलामी देते हैं. इस मंदिर में पूरी राजसी परंपराओं का पालन किया जाता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

 

 

Related Posts