‘2004 में पीएम की कुर्सी पर नाइट वॉचमैन को बैठाया’, PM मोदी ने साधा कांग्रेस पर निशाना

पीएम मोदी ने कहा कि एक प्राइम मिनिस्टर इन वेटिंग के समझदार होने के इंतजार में कांग्रेस ने देश पर दस साल तक एक एक्टिंग प्राइम मिनिस्टर थोप दिया था.

नई दिल्ली: रविवार को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सागर में रैली करने पहुंचे पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कांग्रेस (Congress) सरकार पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) पर निशाना साधाते हुए उन्हें क्रकेट का ‘नाइट वॉचमैन’ करार दे दिया. मोदी ने कहा, “क्रिकेट में जब दिन का खेल ख़त्म होने वाला होता है और कोई विकेट गिर जाता है तो आखिरी खिलाड़ी को नाइट वॉचमैन के रुप में लाया जाता है. कांग्रेस ने भी 2004 में यही किया और राजकुमार (राहुल गांधी) के तैयार होने तक परिवार के वफादार नाइट वॉचमैन को बिठाने की योजना बनाई.”

पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि नामदार ने इंग्लैंड में एक कंपनी बनाई थी जिसका नाम भी इनके कारोबार से मिलता-जुलता है. ‘बैक ऑप्स’ यानि बैक ऑफिस ऑपरेशंस. ये कभी सामने से ऑपरेशन नहीं करते, ये पर्दे के पीछे से ही ऑपरेशन करते हैं.

क्या होता है नाइट वॉचमैन ?

टेस्ट क्रिकेट में अक्सर दिन के अंत में अगर कोई ऊपरी क्रम का बल्लेबाज आउट हो जाता है तो टीम बाकी के बचे बल्लेबाजों को बचाने के लिए नाईट वाचमैन को भेज देती है. यह नाइट वॉचमैन कोई निचले क्रम का बल्लेबाज होता है जो अक्सर गेंदबाज होते हैं.

इसके बाद पीएम मोदी ग्वालियर की रैली में भी कांग्रेस पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा, हमारे देश में आजादी के बाद 4 तरह के राजनीतिक कल्चर चले – पहला नामपंथी, दूसरा वामपंथी, तीसरा दाम और दमनपंथी और चौथा विकासपंथी. मोदी ने आगे कहा कि नामपंथी, वामपंथी, दाम-दमन पंथी राजनीति ने हमेशा देश में विकास की गति को रोका है.

राजीव गांधी पर भी बोला था हमला

पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को रैली में बोफोर्स घोटाले का जिक्र करते हुए बिना नाम लिए हमला लिया था. पीएम मोदी ने कहा, ‘आपके (राहुल गांधी) पिताजी को आपके राज दरबारियों ने गाजे-बाजे के साथ मिस्टर क्लीन बना दिया था, लेकिन देखते ही देखते भ्रष्टाचारी नम्बर वन के रूप में उनका जीवनकाल समाप्त हो गया. नामदार यह अहंकार आपको खा जाएगा. ये देश गलतियां माफ करता है, मगर धोखेबाजी को कभी माफ नहीं करता.’

नेहरु को बताया था हजारों लोगों की मौत का जिम्मेदार

पीएम मोदी ने बुधवार को 1954 के कुंभ मेले का जिक्र करते हुए जवाहर लाल नेहरू (Jawahar Lal Nehru) पर भी आरोप लगाया था. मोदी ने कहा, ‘एक बार पंडित नेहरू जब कुंभ में आए तो अव्यवस्था के कारण भगदड़ मच गई थी, हजारों लगो मारे गए थे लेकिन सरकार की इज्जत बचाने के लिए, पंडित नेहरू पर कोई दोष ना लग जाए इसलिए उस समय की मीडिया ने ये दिखाने की बहादुरी नहीं दिखाई। कहीं खबर छपी भी तो वह एक-दो कॉलम की किसी कोने में खबर छपी थी.’

ये भी पढ़ें, ‘सनक में नेक इंसान की शहादत का अपमान’, राजीव गांधी पर मोदी के बयान से भड़के राहुल-प्रियंका