दिग्विजय ने राफेल की खरीद पर उठाए सवाल, साध्‍वी प्रज्ञा ने बताया दुश्मन देशों के पक्ष में बोलने वाला

भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya singh thakur) ने कहा, ''विरोध करने वाले देश विरोधी ही हो सकते हैं क्योंकि जब देश मजबूत होता है तो तिलमिलाहट देश विरोधियों को होती है.''
pragya singh thakur target digvijay singh, दिग्विजय ने राफेल की खरीद पर उठाए सवाल, साध्‍वी प्रज्ञा ने बताया दुश्मन देशों के पक्ष में बोलने वाला

राफेल (Rafale) को लेकर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के बयान पर सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya singh thakur) ने निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ”ऐसे लोग जो दुश्मन देश की भाषा बोलते हैं , उन्हें राष्ट्र भक्त तो नहीं कहा जा सकता, वह राष्ट्र विरोधी हैं.”

प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा, ”राफेल-राफेल करके राहुल गांधी ने अपना सत्यानाश करवा लिया. राफेल आएगा और देश की रक्षा मजबूत होगी. इसका विरोध करने वाले देश विरोधी ही हो सकते हैं क्योंकि जब देश मजबूत होता है तो तिलमिलाहट देश विरोधियों को होती है. दुश्मन देशों के पक्ष में बोलने वाले लोग अपने देश के लिए हितकारी नहीं है.”

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर से राफेल की खरीद को लेकर सवाल खड़े किए हैं. दिग्विजय सिंह का कहना है कि प्रधानमंत्री ने बिना कैबिनेट की मंजूरी के राफेल सौदे में बदलाव किए और इसकी कीमत नहीं बताई जा रही. दिग्विजय सिंह ने राफेल को लेकर कांग्रेस द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को दोहराया है.

pragya singh thakur target digvijay singh, दिग्विजय ने राफेल की खरीद पर उठाए सवाल, साध्‍वी प्रज्ञा ने बताया दुश्मन देशों के पक्ष में बोलने वाला

राफेल के आने पर पीएम मोदी और रक्षा मंत्री ने कही ये बात

बता दें कि दुश्मन का काल माने जाने वाले 5 फाइटर जेट राफेल (Rafale) बुधवार को अंबाला एयरबेस पहुंच गए हैं. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संस्कृत में ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा, राष्ट्ररक्षासमं पुण्यं, राष्ट्ररक्षासमं व्रतम्, राष्ट्ररक्षासमं यज्ञो, दृष्टो नैव च नैव च।। नभः स्पृशं दीप्तम्… स्वागतम्!”

संस्कृत के इस ट्वीट का हिंदी में मतलब है कि राष्ट्र रक्षा के समान कोई पुण्य नहीं है. राष्ट्र रक्षा के समान कोई व्रत नहीं है. राष्ट्र रक्षा के समान कोई यज्ञ नहीं है.

वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा, राफेल अंबाला में सुरक्षित लैंड कर चुके हैं. भारत में राफेल लड़ाकू विमानों का आना हमारे सैन्य इतिहास में एक नए युग की शुरुआत है. ये मल्टीरोल विमान भारतीय वायुसेना की क्षमताओं में क्रांतिकारी बदलाव लाएंगे.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts