मध्यप्रदेश: RSS युवा सम्मेलन को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच छिड़ा वाक युद्ध

कांग्रेस के विधायक ने कहा, मोहन भागवत का मध्यप्रदेश में स्वागत है लेकिन जिस तरह से नफरत की राजनीति RSS कर रही है उसे दिल से खाली करके यहां आएं तो अच्छा होगा.
RSS Youth Conference, मध्यप्रदेश: RSS युवा सम्मेलन को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच छिड़ा वाक युद्ध

मध्यप्रदेश के गुना में RSS के युवा सम्मेलन को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं गर्म हैं. दरअसल संघ प्रमुख मोहन भागवत 3 दिन के लिए मध्य प्रदेश के दौरे पर हैं. यहां पर वे गुना में युवा कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत करेंगे. खास बात ये कि इस दौरान वो 1700 से ज्यादा छात्रों के साथ बातचीत करेंगे. ऐसे में युवाओं को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच वाक युद्ध छिड़ गया है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत 2 फरवरी तक गुना में आयोजित युवा शिविर में भाग लेंगे. तीन दिवसीय युवा सम्मेलन के लिए गुना के छतरपुरिया स्टेट मैदान को सजाया गया है, जहां ये शिविर आयोजित किया जाएगा.

मोहन भागवत छात्रों को करेंगे संबोधित

इस शिविर में छात्र और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारी शामिल होंगे. 16 जिलों के स्टूडेंट्स इस शिविर में भाग लेंगे. इसमें 1700 विद्यार्थियों के शामिल होने की संभावना है. पूरे मैदान में छोटे-छोटे 11 नगर पंडाल बनाए गए हैं. चार लाख वर्ग फीट जगह में इस पूरे कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत छात्रों को संबोधित करेंगे. पुलिस ने इसको लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं.

कांग्रेस ने साधा निशाना

मोहन भागवत के मध्य प्रदेश दौरे को लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा है. कांग्रेस के विधायक कुणाल चौधरी का कहना है कि मोहन भागवत का मध्यप्रदेश में स्वागत है लेकिन जिस तरह से नफरत की राजनीति RSS कर रही है. वह नफरत दिल से खाली करके मध्यप्रदेश आएं तो अच्छा होगा. मुंह में राम और दिल में नाथूराम की पॉलिसी देश को बांटने वाली है और इस राजनीति से किसी का भला नहीं होगा.

बीजेपी का कांग्रेस को जवाब

इसी को लेकर बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत पर कांग्रेस किसी तरह की टिप्पणी ना करें तो ही बेहतर है, क्योंकि इस समय देश में जो हालात कांग्रेस की वजह से बन गए हैं, उसको लेकर चिंता हो रही है. मध्यप्रदेश में अराजकता का माहौल है. ऐसे में कांग्रेस मध्य प्रदेश की चिंता करें RSS की नहीं.

RSS के युवा सम्मेलन में 1700 छात्रों और युवाओं से मोहन भागवत चर्चा करेंगे. जाहिर है RSS को लेकर कांग्रेस पहले से हमलावर रही है और ऐसे में जब मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार है तो शिविर को लेकर राजनीति होने की पूरी संभावनाएं हैं.

ये भी पढ़ें:  निर्भया केस : दोषी अक्षय ठाकुर की क्‍यूरेटिव याचिका खारिज, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नहीं है कोई नया आधार

Related Posts