बबली गैंग खल्लास: जंगल में मिली बबली कोल और लवकेश की लाश, पुलिस ने मार गिराने का किया दावा

बबली कोल गिरोह ने हाल ही में एक किसान अवधेश समदड़िया का उसके घर से अपहरण कर लिया था.

भोपाल: मध्य प्रदेश के विंध्य और उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती इलाके में आतंक का पर्याय बन चुके बबली गैंग का सफाया हो गया है. पुलिस ने डकैत बबली कोल और उसके साथी लवकेश की लाश लेदरी के जंगल से बरामद की है. सतना पुलिस का दावा है कि दोनों को मुठभेड़ में मार गिराया गया है. बता दें कि बबली की गिरफ्तारी पर 7 लाख और लवकेश पर 1 लाख 80 हज़ार रुपए का इनाम घोषित था.

हालांकि रविवार देर रात को जानकारी मिली थी कि एक गैंगवार में बबली कोल की हत्या हो गयी है. ख़बर के मुताबिक फिरौती की रकम बंटवारे को लेकर गिरोह में झगड़ा हुआ और फिर गैंगवार में बबली को उसके साथी लोली कोल ने गोली मार दी.

वहीं पुलिस अब दावा कर रही है कि बबली और उसके साथी को मुठभेड़ में मारा गया है. इस मुठभेड़ में पुलिस ने 35 राउंड फायर किए. डकैतों की ओर से 16 राउंड गोली चलायी गयी.

बबली कोल गिरोह ने हाल ही में एक किसान अवधेश समदड़िया का उसके घर से ही अपहरण किया था और फिरौती में 50 लाख रुपए मांगे थे. तमाम घेराबंदी के बाद भी मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की पुलिस मिलकर भी उसे पकड़ नहीं पायी थी. बाद में किसान के परिवार ने 5-6 लाख की फिरौती देकर उसे मुक्त कराया था.