पन्ना टाइगर रिजर्व : संदिग्ध अवस्था में मिला बाघिन का शव, जांच में जुटा वन विभाग

पन्ना टाइगर रिजर्व (Panna Tiger Reserve) ने बताया कि बाघिन के शव पर घसीटने के निशान पाए गए हैं. जिससे मालूम होता है कि बाघिन की मौत आपसी लड़ाई में हुई है.
Panna Tiger Reserve, पन्ना टाइगर रिजर्व : संदिग्ध अवस्था में मिला बाघिन का शव, जांच में जुटा वन विभाग

मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व (Panna Tiger Reserve) में 10 साल की बाघिन पी-213 संदिग्ध हालत में मृत पाई गई. रेडियो कॉलर युक्त बाघिन का शव पन्ना कोर क्षेत्र के तालगांव सर्किल में ट्रेकिंग दल को मिला है. करीब एक महीने पहले तक बाघिन बिल्कुल स्वस्थ थी. तालगांव रेस्ट हाउस (Talagaon Rest House) में आराम फरमाते हुए इस बाघिन की फोटो हाल ही में सुर्खियों में रही हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

‘पन्ना की रानी’ नाम से मशहूर थी बाघिन

पन्ना टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक केएस भदोरिया ने घटना की पुष्टि की है. उन्होंने प्रेस नोट जारी करते हुए बताया कि बाघिन पी-213 पन्ना टाइगर रिजर्व की सबसे ज्यादा चर्चित और चहेती बाघिन थी. स्वभाव से बेहद सीधी और पर्यटकों को सहजता से दिख जाने वाली इस बाघिन ने कभी किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया, इसलिए लोग इसे ‘पन्ना की रानी’ कहकर पुकारते थे.

पन्ना टाइगर रिजर्व को बाघों से आबाद करने में अहम भूमिका निभाने वाली बाघिन ‘पी- 213’ बाघ पुनर्स्थापना योजना के तहत कान्हा राष्ट्रीय उद्यान से लाई गई बाघिन ‘टी-2’ की संतान है. बाघिन टी-2 ने अक्टूबर 2010 में इसी वन परिक्षेत्र में इसे जन्म दिया था.

Panna Tiger Reserve, पन्ना टाइगर रिजर्व : संदिग्ध अवस्था में मिला बाघिन का शव, जांच में जुटा वन विभाग

बाघिन के शव पर घसीटने के निशान

पन्ना टाइगर रिजर्व ने बताया कि बाघिन के शव पर घसीटने के निशान पाए गए हैं. वहीं निशानों का पीछा करने पर एक स्थान पर बाघों के आपसी मुठभेड़ के निशान पाए गए हैं. जिससे प्रतीत होता है कि बाघिन की मौत आपसी लड़ाई में हुई है. बाघिन का पोस्टमार्टम डॉक्टर संजीव कुमार गुप्ता ने किया. जब सैंपल एकत्रित किए गए तब मौके पर राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के प्रतिनिधि के रुप में इंद्रभान सिंह बुंदेला, जिला समन्वयक लास्ट वाइल्डर्नेस फाउंडेशन और सुप्रतिम वैज्ञानिक उपस्थित रहे.

बाघिन का पोस्टमार्टम करने के बाद क्षेत्र संचालक टाइगर रिजर्व, उपसंचालक, सहायक संचालक, प्रतिनिधि राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण सहित दूसरे अधिकारियों की उपस्थिति में उसका अंतिम संस्कार किया गया.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts