डेंटिस्ट ने उखाड़ा दांत, तो 23 साल की लड़की की हो गई मौत

जब धनश्री का इलाज किया जा रहा था तब उसके दांत निकाले गए. जिसके बाद वह दर्द से कराह उठी. इस दौरान उसका लगातार खून बहता रहा.

पुणे: महाराष्ट्र में दांतों का इलाज कराते समय एक 23 वर्षीय लड़की की मौत की हो गई. यह मामला है पुणे के करीब पिंपरी चिंचवाड़ का, जहां के एक अस्पताल में वह लड़की दांतों के ट्रीटमेंट के लिए भर्ती हुई थी. इलाज के दौरान उसका काफी खून बह गया, जिसके चलते उसकी मौत हो गई. हालांकि पीड़ित लड़की के परिजनों का मानना है कि उसकी मौत डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते हुई है.

लड़की का नाम धनश्री जाधव है जो पिछले कई दिनों से दांतो के दर्द को लेकर काफी परेशान थी. इसके बाद वह पिंपरी चिंचवाड़ के स्टर्लिंग आयुर्वेदिक हॉस्पिटल में डेंटल डिपार्टमेंट में इलाज के लिए गई. जहां उसका इलाज चल रहा था. जानकारी के मुताबिक जल्द ही धनश्री के दांतों की सर्जरी होने वाली थी. जिसके चलते वह पिछले आठ दिनों से हॉस्पिटल में भर्ती थी.

जब धनश्री का इलाज किया जा रहा था तब उसके दांत निकाले गए. जिसके बाद वह दर्द से कराह उठी. इस दौरान उसका लगातार खून बहता रहा. जिसके चलते धनश्री की तबीयत और खराब हो गई. जिसके कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई. 23 साल की अपनी बेटी की मौत से शोक में डूबे परिवार ने उसकी मौत के लिए डॉक्टर्स को जिम्मेदार ठहराया.

परिजनों ने धनश्री की मौत के बाद अस्पताल के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया. जिसके बाद उन्होंने अस्पताल के खिलाफ निगड़ी पुलिस थान में मामला दर्ज कराया. परिजनों का कहना है कि डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते ही उनकी बेटी की मौत हुई. हालांकि पुलिस के मुताबिक धनश्री की मौत का असली कारण अभी स्पष्ठ नहीं हो सका है. पोस्टमॉर्टम के बाद ही पुलिस किसी निर्णय पर पहुंच पाएगी.

ये भी पढ़ें: विदाई के बाद ससुराल जा रही दुल्हन का अपहरण, दूल्हे के साथ की मारपीट