Maharashtra Latest Updates: स्पीकर के नाम पर फंसा पेंच, कांग्रेस-एनसीपी हुईं आमने-सामने

बैठक में एनसीपी चीफ शरद पवार, वरिष्ठ नेता अजित पवार और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल भी मौजूद हैं.

महाराष्ट्र में सरकार गठन का रास्ता साफ होता नजर आ रहा है. माना जा रहा है कि आज शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार का ऐलान हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक, गठबंधन सरकार की कमान शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के पास रहेगी.

कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना नेताओं की सरकरार गठन के लिए मुंबई के नेहरू सेंटर में बैठक हो रही है. बैठक में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर सहमति बन गई है. एनसीपी ने गृह मंत्रालय की मांग की है. कांग्रेस ने राजस्व विभाग की मांग की है.

कांग्रेस ने पृथ्वीराज चव्हाण के लिए स्पीकर पद की मांग की है. लेकिन एनसीपी इस पर राजी नहीं है. अब शनिवार को पहले कांग्रेस-एनसीपी की बैठक होगी, उसके बाद बैठक में शिवसेना को बुलाया जाएगा.

सूत्रों का कहना है कि बैठक में इस पर प्रस्ताव पारित हो गया है कि शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा.

अरविंद सावंत और एकनाथ शिंदे भी सीएम पद के रेस में थे, लेकिन अंतिम मुहर उद्धव ठाकरे के नाम पर लगी. कांग्रेस और एनसीपी के नेता उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनने की गुजारिश कर रहे थे. सूत्रों के मुताबिक, शरद पवार चाहते थे उद्धव ठाकरे ही सीएम बनें.

उद्धव ठाकरे ने कहा एक ही विषय पर चर्चा नहीं हो रही बल्कि सभी मुद्दों पर बात हो रही है. चर्चा सकारात्मक है. शरद पवार ने कहा- उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री होंगे.

शरद पवार ने कहा जब तक सभी मुद्दों पर चर्चा नहीं हो जाती तब तक राज्यपाल के पास नही जाएंगे. मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई मतभेद नहीं. सरकार बनाने को लेकर हो रही बैठक के बाद उद्धव ठाकरे ने कहा- पहली बार तीन पार्टी के नेता एक साथ बैठे. हम चाहते हैं कि सरकार बनाने से पहले कोई ऐसा मसला ना हो जिनका हल हमारे पास ना हो.

कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना के बीच ईमेल और चिट्ठियों का आदान प्रदान. लिखित में होगा समझौता. समझौता टूटने की सूरत में हर पक्ष के पास होंगे सबूत. पवार ने उद्धव के नाम पर मुहर लगाई.

महाराष्ट्र में दो स्तर पर कोऑर्डिनेशन कमेटियां बनेंगी. एक सरकार के स्तर पर और एक पार्टी स्तर पर. दोनों ही स्तरों पर तीनों ही पार्टियों में लगातार कोऑर्डिनेशन की कोशिश की जाएगी. विवादास्पद मुद्दे किनारे रखे जाएंगे.

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा है कि सीएम पद शिवसेना को मिलेगा. उन्होंने कहा कि 5 साल तक सरकार का चलना ज्यादा महत्वपूर्ण है, बजाय बारी-बारी से सीएम पद का बंटवारा करने के.

नवाब मलिक ने कहा कि बैठक के बाद एनसीपी-शिवसेना-कांग्रेस शुक्रवार की रात या शनिवार की सुबह सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे.

बैठक के लिए कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे नेहरू सेंटर पहुंच चुके हैं. कांग्रेस-NCP-शिवसेना की बैठक में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे और संजय राउत भी पहुंचे हैं.

बैठक में एनसीपी चीफ शरद पवार, वरिष्ठ नेता अजित पवार और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल भी मौजूद हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस-NCP-शिवसेना की बैठक में पहुंचे हैं. उन्होंने कहा कि बैठक के बाद हम प्रेस ब्रीफिंग करेंगे.

एनसीपी के एक सूत्र ने आईएएनएस से कहा कि तीनों पार्टियों के नेताओं की बैठक आज शाम चार बजे बुलाई गई है. सूत्र ने कहा, “बैठक के बाद हम राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए आज शाम या कल सुबह राज्यपाल से मुलाकात करेंगे.”

ये भी पढ़ें-

उद्धव ठाकरे नहीं शिवसेना के मैजिक मैन होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम!

जानें क्यों, मुख्यमंत्री पद से दूर भाग रहे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे?