Coronavirus: 1 महीने में 112 मौतें, औसत से 4 गुना ज्यादा है महाराष्ट्र के इस इलाके की डेथ रेट

जलगांव (Jalgaon) केले की खेती के लिए मशहूर है. जिले में कोरोनावायरस की वजह से पहली मौत 28 अप्रैल को हुई थी. अगले एक महीने के भीतर ही जिले में 100 लोगों की मौत हो गई.
death rate for Coronavirus, Coronavirus: 1 महीने में 112 मौतें, औसत से 4 गुना ज्यादा है महाराष्ट्र के इस इलाके की डेथ रेट

महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोनावायरस (Coronavirus) का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. राज्य में पीड़ितों की संख्या 80 हजार को पार कर चुकी है. शनिवार को 2,739 नए मामले सामने आए और 120 मौतें हुईं. इस तरह राज्य में कुल मामले अब 82,968 हो गए हैं और अब तक 2,969 लोगों की मौत हुई है.

12.3 फीसदी है डेथ रेट

वहीं, महाराष्ट्र के जलगांव (Jalgaon) जिले की कोरोना डेथ रेट से सबको हैरान कर दिया है. इस जिले में डेथ रेट 12.3 फीसदी है, जो राष्ट्रीय औसत का करीब चार गुना ज्यादा है. कोरोनावायरस की भारत में औसत डेथ रेट 2.8 है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

जलगांव के जिलाधिकारी अविनाश धाकने ने बताया कि ‘खतरे की घंटी करीब एक महीना पहले ही यानी 2 मई को बज गई थी. तब तक जिले में 42 मामले सामने आ चुके थे और अगले पांच दिनों में ही 14 की मौत हो गई थी.’

जलगांव केले की खेती के लिए मशहूर है. जिले में कोरोनावायरस की वजह से पहली मौत 28 अप्रैल को हुई थी. अगले एक महीने के भीतर ही जिले में 100 लोगों की मौत हो गई.

मृतकों के बीच उम्र का अंतर

जिले में अब तक जिन लोगों की मौत हुई है उनमें 60 से ज्यादा 60 साल की उम्र से अधिक वाले पीड़ित थे. 47 लोग 50 से 60 साल की उम्र के बीच थे. सिर्फ पांच ऐसे लोगों की मौत हुई है जिनकी उम्र 40 से 50 साल के बीच थी.

आंकड़ों के अनुसार, कुल मृतकों में करीब 77 ऐसे लोग थे जिन्हें पहले से किसी गंभीर बीमारी ने घेर रखा था. जानकारों का मानना है कि गंभीर बीमारी के शिकार लोगों के कोरोना से मरने की संभावना ज्यादा रहती है.

महाराष्ट्र सरकार ने जलगांव में मौत के आंकड़े को देखते हुए दस सदस्यीय कमेटी का गठन किया है. ये कमेटी इस बात की जांच करेगी कि आखिर जलगांव में जिले में डेथ रेट देश के अन्य इलाकों से इतनी ज्यादा क्यों है. साथ इन मौतों को रोकने के लिए तत्काल कौन से कदम उठाए जा सकते हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts