कर्मचारियों की कामचोरी से परेशान डिप्टी मेयर ने ऑफिस पर लगाया ताला

अधिकारी के मुताबिक कांग्रेस के शासन में कर्मचारियों की पुरानी आदतें अभी तक पूरी तरह से समाप्त नहीं हुई हैं.
Deputy Mayor in Latur, कर्मचारियों की कामचोरी से परेशान डिप्टी मेयर ने ऑफिस पर लगाया ताला

लातूर: लातूर महानगर पालिका (एलएमसी) के अधिकारियों और कर्मचारियों की बेरुखी और बेतुके रवैये से परेशान होकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के डिप्टी मेयर देवीदास काले ने सोमवार को अपने अनोखे अंदाज में काम करने का फैसला किया.

इस अलग कदम के चलते काले ने पूरे नगर प्रशासन को झटका देते हुए महत्वपूर्ण नगर नियोजन विभाग के कार्यालय को बंद कर दिया.

यह जानकारी जंगल की आग की तरह फैली, कई कार्यकर्ता और अधिकारी दूसरी जगह इधर-उधर भटकते रहे, काले के गुस्से से बचने के लिए वह अपने कार्यस्थल पर वापस लौट आए.

जानकारी की पुष्टि करते हुए काले ने आजकल चल रहे आलस भरे काम के लहजे के लिए तत्कालीन कांग्रेस शासन को दोषी ठहराया.

काले ने कहा, “पिछले दो सालों से हम यहां कुछ अच्छा करने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन कांग्रेस के शासन में पुरानी आदतें अभी तक पूरी तरह से समाप्त नहीं हुई हैं. कड़ी चेतावनी देने के लिए मुझे इस उपाय का सहारा लेना पड़ा.”

पिछले छह महीनों से फाइलों के ढेर लगे रहने के कारण उनकी तड़प बनी हुई है और लोक कल्याण के लिए कोई प्रशासनिक निर्णय नहीं लिया जा रहा है.

Related Posts