नहीं हुआ था ढाई-ढाई साल सीएम पद का वादा, उद्धव ने मेरा फोन तक नहीं उठाया: देवेंद्र फडणवीस

देवेंद्र फडणवीस ने कहा, "ढाई साल के विषय पर कभी निर्णय नही हुआ. उद्धव जी और अमित शाह जी के सामने हुई होगी तो मालूम नहीं. मैंने अमित जी से बात की उन्होंने ने भी बताया कि ऐसी कोई बात नही हुई थी.'

सरकार बनाने की डेडलाइन खत्म होने के बाद बुधवार को देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल से मुलाकात कर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. मालूम हो कि राज्य में सरकार बनाने की डेडलाइन बुधवार को खत्म हो गई है, लेकिन चुनावी नतीजे आने के एक पखवाड़े से ज्यादा समय बीतने के बाद भी सूबे को नई सरकार नहीं मिली है. अब इस्तीफा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं.

  • मैंने राज्यपाल से मिलकर मेरा इस्तीफा दिया है, उन्होंने उसे स्वीकार किया है. जनता ने 5 साल हमें मौका दिया सेवा करने का उनका मैं धन्यवाद देता हूं. सभी नेता और कार्यकर्ता साथ ही 5 साल जिन लोगों ने हमारे साथ काम किया अधिकारी, कर्मचारी ,मित्र पक्ष और नेता का आभार मानता हूं- फडणवीस
  • मुम्बई में जिस प्रकार का काम इस सरकार ने किया और पुराने प्रकल्प जो रुके थे उसे भी किया, इस काम की अगर हम तुलना करें तो 5 साल में महराष्ट्र में बहुत काम हुआ. इसलिए लोकसभा में हमें प्रचंड बहुमत मिला. विधानसभा में भी महायुति के तौर पर हम चुनाव में गए और महायुति को लोगों ने संपूर्ण बहुमत दिया. इसी के साथ सबसे ज्यादा नंबर 105 के साथ बीजेपी जीती: देवेंद्र फडणवीस
  • उद्धव ठाकरे ने जो पहलीं प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई उसमें उन्होंने कहा कि सरकार बनाने के लिए उनके पास सरकार बनाने के सभी रास्ते खुले हैं, ये हमारे लिए धक्का जैसा था कि वो युति में लड़े फिर ऐसा क्यों बोलना चाहिए: देवेंद्र फडणवीस
  • फडणवीस ने कहा, ‘पिछले 15 दिनों में जो वक्तव्य सुनने मिल रहा है कि ढाई-ढाई साल सीएम पद, सच यह है कि ढाई साल के सीएम पद को लेकर कोई भी बात मेरे सामने नहीं आई, ढाई साल के विषय पर कभी निर्णय नही हुआ. उद्धव जी और अमित शाह जी के सामने हुई होगी तो मालूम नहीं. मैंने अमित जी से बात की उन्होंने ने भी बताया कि ऐसी कोई बात नही हुई थी.’
  • खैर जो भी कुछ हुआ था बात उसे चर्चा करके खत्म किया जा सकता था लेकिन हम चर्चा ही नही करेंगे ऐसी भूमिका उन्होंने ली. मैंने कई बार उद्धव को फोन किया लेकिन उन्होंने फोन नही उठाया: देवेंद्र फडणवीस
  • हमशे चर्चा करने की बजाय वो दिन में 3 बार कांग्रेस और एनसीपी से चर्चा कर रहे थे, लेकिन हम से नहीं. मेरा उद्धव जी से अच्छे संबंध हैं, आगे भी रहेंगे. ये जो शिवसेना ने तय किया ये उचित नहीं था. मैंने उनके साथ 5 साल काम किया उनपर कोई टिका टिप्पड़ी नही करूंगा: देवेंद्र फडणवीस
  • प्रेस कॉन्फ्रेंस में देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हम जवाब नहीं दे सकते ऐसा नहीं है, लेकिन हमरा तरीका वैसा नहीं है. हमनें उद्धव जी के बारे में कभी कोई वक्तव्य नहीं दिया, खुद पीएम ने भी नहीं दिया. बालासाहेब हम सब के लिए श्रधेय हैं. कोई विरोधी व्यक्ति टिप्पणी करता तो चलता लेकिन सत्ता में रहते हुए भी ऐसा करना उचित नहीं था.
  • इस्तीफा देने के बाद राज्यपाल ने मुझे एक्टिंग सीएम के तौर पर बने रहने के लिए कहा है. जब तक राज्यपाल चाहेंगे तब तक रहूंगा. जनता के आदेश का अनादर करना उचित नहीं है: देवेंद्र फडणवीस
  • राष्ट्रपति शाषन लगे या फिर जो कुछ भी हो, ऐसे में चुनाव की स्थिति के बजाय सरकार बने ऐसी सारी कोशिश हम करेंगे. कुछ लोग आरोप लगा रहे हैं कि बीजेपी विधायक तोड़ रही है, मैं उनको खुला न्योता देता हूं कि वो सबूत दें अन्यथा मांफी मांगें. बीजेपी तोड़ फोड़ की राजनीति नहीं करेगी और बीजेपी ही आगे चलकर सरकार बनाएगी, ये विश्वास है: देवेंद्र फडणवीस

ये भी पढ़ें: मलाड के रिट्रीट होटल में शिफ्ट होंगे शिवसेना के विधायक, फडणवीस ने दिया CM पद से इस्तीफा