प्रियंका चतुर्वेदी-अमृता फडणवीस के बीच छिड़ा ट्विटर ‘WAR’, एक दूसरे को दी नसीहतें

अमृता फडणवीस के इस ट्वीट पर शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने जोरदार हमला किया. उन्होंने लिखा, "मैम आपको ये जानकार निराशा होगी, लेकिन सच्चाई ये है कि मेमोरियल के लिए एक भी पेड़ नहीं काटा जाएगा.
amruta fadanvis bjp shiv sena leader priyanka chaturvedi, प्रियंका चतुर्वेदी-अमृता फडणवीस के बीच छिड़ा ट्विटर ‘WAR’, एक दूसरे को दी नसीहतें

मुंबई: महाराष्ट्र में सत्ता संघर्ष अब महिला नेत्रियों तक पहुंच गया है. शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ट्विटर पर आमने सामने आ गईं. अमृता फडणवीस ने कहा है कि शिवसेना तभी पेड़ कटवाती है जब उसे कमीशन मिलता है, इस पर प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि अनिवार्य रूप से झूठ बोलने की बीमारी महाराष्ट्र बीजेपी के नेताओं को है.


अमृता फडणवीस ने यह ट्वीट इसलिए किया है क्योंकि आरे कॉलोनी में पेड़ों को काटे जाने को लेकर शिवसेना ने विरोध जताया था और मुख्यमंत्री का पद संभालते ही उद्धव ठाकरे ने आरे कॉलोनी में बनने वाले मेट्रो कार शेड के काम पर रोक लगा दी है. वहीं अमृता फडणवीस ने अपने ट्वीट में पेपर की एक कटिंग भी पोस्ट की है जिसमें औरंगाबाद में पेड़ों के कांटे जाने की खबर छपी है. इन पेड़ों को इसलिए काटा जाना है क्योंकि वहां पर बाल ठाकरे का मेमोरियल बनाया जाना है.

अमृता फडणवीस के इस ट्वीट पर शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने जोरदार हमला किया. उन्होंने लिखा, “मैम आपको ये जानकार निराशा होगी, लेकिन सच्चाई ये है कि मेमोरियल के लिए एक भी पेड़ नहीं काटा जाएगा, मेयर ने भी इसकी पुष्टि कर दी है. हां मैं बता दूं कि अनिवार्य रूप से झूठ बोलना बड़ी बीमारी है, जल्द ठीक होइए, वृक्ष काटने के लिए कमीशन महाराष्ट्र बीजेपी के नेताओं द्वारा प्रैक्टिस की जाने वाली नई पॉलिसी है.” एक दूसरे ट्वीट में प्रियंका ने औरंगाबाद के मेयर का एक वीडियो लगाया है. इसमें मेयर नंदकुमार कह रहे हैं कि बाला साहेब के स्मारक के लिए पेड़ नहीं कटने दिया जाएगा.

Related Posts