‘2014 में कांग्रेस का साथ चाहती थी शिवसेना’, चव्हाण की बात पर बोले फडणवीस- असली चेहरा सामने आया

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने एक समाचार एजेंसी को दिए साक्षात्कार में शिवसेना को लेकर बड़ा खुलासा किया है.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के एक बयान के बाद राज्य की राजनीति फिर गरमा गई है. एक समाचार एजेंसी को दिए साक्षात्कार में चव्हाण ने खुलासा किया है कि 2014 के विधानसभा चुनाव के बाद भी उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने बीजेपी को रोकने के लिए मिलकर सरकार बनाने का प्रस्ताव दिया था, जिससे कांग्रेस ने तुरंत खारिज कर दिया था.

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दिल्ली में मीडिया से कहा कि चव्हाण ने जो कहा वह बहुत ही आश्चर्यजनक है. उनके इस बयान को गंभीरता से लिया जाना चाहिए. इस खुलासे से शिवसेना का असली चेहरा सामने आया है. फडणवीस ने कहा, “शिवसेना को चव्हाण के बयान पर स्पष्टीकरण देना चाहिए.”

चव्हाण ने दावा करते हुए कहा, ‘2014 के बाद हमने पांच साल फडणवीस की सरकार देखी. इस दौरान जनतंत्र खत्म करने की कोशिश हुई. कांग्रेस और एनसीपी के करीब 40 सांसदों और विधायकों को तोड़ा गया. लोगों को ब्लैकमेल करके और पदों का लालच देकर तोड़ा गया. बीजेपी एक पार्टी का शासन चाहती है और विपक्ष को खत्म करना चाहती है.’

ये भी पढ़ें-

रेलवे स्टेशन के बाद अब मुगलसराय डिवीजन का नाम भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर

दिग्विजय सिंह पहुंचे शाहीन बाग, दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से की हटने की अपील