‘रेप रोकने के लिए बच्चों को पढाएं संस्कृत के श्लोक’ – महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी

राज्यपाल कार्यक्रम में बच्चों को अच्छे और बुरे लोगों की बीच का फर्क और किस तरह से यह लोग अपने ज्ञान, अपनी शक्ति और पैसों का इस्तेमाल करते हैं, वो समझा रहे थे.

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने देश भर में हो रही रेप की घटनाओं पर कहा कि रेप जैसी घटनाओं को रोकने के लिए बच्चों को संस्कृत के श्लोक पढ़ाने चाहिए. राज्यपाल कोश्यारी गुरुवार को नागपुर यूनिवर्सिटी के कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे जहां उन्होंने यूनिवर्सिटी प्रशासन से अपने सभी बच्चों को संस्कृत के श्लोक पढ़ाने को कहा.

दरअसल राज्यपाल कार्यक्रम में बच्चों को अच्छे और बुरे लोगों की बीच का फर्क और किस तरह से यह लोग अपने ज्ञान, अपनी शक्ति और पैसों का इस्तेमाल करते हैं, वो समझा रहे थे. उन्होंने कहा, “एक समय था जब लोग घरों में कन्या पूजन करते थे. आप सब भी धार्मिक हैं और घर में पूजन करते होंगे, लेकिन अब देश में क्या हो रहा ? दुष्ट लोग महिलों के साथ रेप और उनकी हत्या कर रहे हैं. पावर का मतलब किसी को डराना, धमकाना होता है या लोगों की रक्षा करना? इसलिए छात्रों को संस्कृत श्लोक पढ़ाने चाहिए ताकि इस तरह की घटनाएं न हो.”

बता दें कि भगत सिंह कोश्यारी यहां नागपुर यूनिवर्सिटी के जमनालाल बजाज प्रशासनिक भवन का उद्धघाटन करने आए थे. जिसके लिए बजाज ग्रुप के चेयरमेन राहुल बजाज ने भी 10 करोड़ रुपए का योगदान दिया है. साथी ही इस कार्यक्रम में बजाज ग्रुप के चेयरमेन राहुल बजाज भी मौजूद थे.

ये भी पढ़ें: नागरिकता कानून का विरोध कर रहे बेकाबू प्रदर्शनकारियों के सामने जब बेंगलुरु DCP ने गाया राष्ट्रगान…