मलाड के रिट्रीट होटल में शिफ्ट होंगे शिवसेना के विधायक, फडणवीस ने दिया CM पद से इस्तीफा

शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर से बीजेपी पर तंज कसा है. राउत ने कहा है कि हम अटल जी के रास्ते पर चल रहे हैं.

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और शिवसेना के बीच शुरू हुई खींचतान खत्म होती नहीं दिख रही है. बीजेपी और शिवसेना में मुख्यमंत्री पद को लेकर विवाद जस का तस बना हुआ है. दोनों ही पार्टियां अपनी-अपनी मांगों पर अड़ी हुई हैं. इस बीच पिछली विधानसभा का कार्यकाल कल यानी 9 नवंबर को खत्म होने जा रहा है. ऐसे में महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू होने की बात भी चल रही है.

Live Updates:

  • देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंपा है.
  • मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात कर रहे हैं. इस मुलाकात के बाद सीएम प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.
  • शिवसेना सचिव मिलिंद नार्वेकर ने मुंबई पुलिस को पत्र लिखा है. उन्होंने मांग की है कि 8 से 15 नवंबर तक सभी विधायकों को सुरक्षा दी जाए. सभी विधायकों को मालाड के रिट्रीट होटल में रखा जाएगा. शिवसेना को डर है कि बीजेपी की तरफ से विधायकों को तोड़ा न जाए.
  • बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार का कहना है कि कांग्रेस और एनसीपी ने खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए हैं. उन्हें 48 घंटे के भीतर इस आरोप को साबित करना चाहिए या महाराष्ट्र के लोगों से माफी मांगनी चाहिए.


    रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले) के अध्यक्ष रामदास अठावले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार से मिलने पहुंचे हैं. वह सरकार गठन के मुद्दे पर बातचीत कर सकते हैं.

  • बांद्रा स्थित रंगशारदा होटल में शिवसेना के 56 एमएलए मौजूद हैं. साथ ही कुछ निर्दलीय एमएलए भी हैं. इस वक्त रंगशारदा होटल के बाहर दो बसें लगाई गई हैं. जानकारी है कि इन विधायकों को कहीं और शिफ्ट किया जा सकता है. हालांकि कहां शिफ्ट किया जाएगा या फिर वो यही रुकेंगे, इस पर सस्पेंस बना हुआ है.
  • केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी मुंबई पहुंच चुके हैं. उन्होंने शिवसेना के आरोपों पर कहा है कि ‘विधायकों की खरीद-फरोख्त का कोई सवाल ही नहीं है. अगर बीजेपी और शिवसेना के बीच मध्यस्थता की जरूरत पड़ती है तो वह मैं कर सकता हूं.’
  • महाराष्ट्र कांग्रेस नेता नितिन राउत ने कहा, “इस तरह की खबरें मिल रही हैं कि कुछ कांग्रेसी विधायकों को बीजेपी नेताओं ने पैसे के साथ अप्रोच किया था. कल हमारे एक या दो विधायकों को लगभग 25 करोड़ रुपये की पेशकश की गई. लेकिन हम कर्नाटक में शुरू हुए हॉर्स ट्रेडिंग पैटर्न को रोकने की पूरी कोशिश करेंगे.”

  • कांग्रेस ने बीजेपी पर उसके विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाया है. कांग्रेस ने अपने विधायकों को जयपुर भेज दिया है. कांग्रेस के भीतर टूट का खतरा नजर आ रहा है.
  •  कांग्रेस नेता विजय वाडेट्टीवार का आरोप है कि कांग्रेस के विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही है. उन्‍होंने बताया कि कांग्रेस की तरफ से सभी विधायकों को फोन टेप करने के लिए कहा गया है ताकि जो लोग विधायकों की खरीद-फरोख्त में शामिल हो रहे हैं, उनको जनता के सामने एक्सपोज किया जा सके.
  • शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर से बीजेपी पर तंज कसा है. राउत ने कहा है कि हम अटल जी के रास्ते पर चल रहे हैं.
  • उन्होंने कहा कि शिवसेना के लिए यह अग्निपरीक्षा की घड़ी है. हम लोग चुनौतियों का सामना करेंगे, भागेंगे नहीं.
  • बीजेपी के संकटमोचक कहे जाने वाले नेता नितिन गडकरी नागपुर से मुंबई जा रहे हैं.
  • माना जा रहा है कि गडकरी मुंबई में शिवसने प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात कर सकते हैं.

  • राउत ने कहा कि नितिन गडकरी मुंबई के निवासी हैं. जब से आए हैं, वर्ली में रहते हैं. यहां उनका घर है, अगर मुंबई आ रहे हैं तो ये खबर कैसे बन जाती है. अगर ‘मातोश्री’ जाने की खबर है तो उनके पास ढाई साल शिवसेना को मुख्यमंत्री पद देने का खत हो तो बताइए.
  • उन्होंने कहा, “अटल जी के संदेश को किए ट्वीट पर हम उनकी बात पर यकीन करते हैं. महाराष्ट्र हमारा है. कांग्रेस में ये डर क्यों पैदा हो रहा है. पर्दे के पीछे क्या हो रहा, कर्नाटक पैटर्न चलाने की कोशिश है. यहां नहीं चलेगा, हम सब एक हैं.”

  • शिवसेना नेता ने कहा कि सीएम को इस्तीफा देना ही पड़ेगा. संविधान के अनुसार आज आखिरी तारीख है. राज्यपाल पर निर्भर रहेगा. हम तैयारी कर रहे हैं. सरकार बनेगी, पहला मौका सिंगल लार्जेस्ट पार्टी को मिलेगा. भाजपा कह रही है कि शिवसेना के बिना सरकार नही बनाएंगे तो जो बोला है उसे मानो.
  • राउत ने कहा, “अयोध्या का फैसला सबको स्वीकार करना पड़ेगा. शिवसेना का रोल कोई नकार नहीं सकता. शिवसेना का स्वभाव आगे-पीछे, अंदर-बाहर से कोई संवाद का नहीं है. बीजेपी से कोई बात नहीं हो रही है.”

  • उन्होंने कहा कि अयोध्या पर अपील की बात नहीं है. सर्वोच्च न्यायलय का फैसला है, सबको स्वीकर करना पड़ेगा. 25 साल पहले जनता फैसला कर चुकी है.
  • उन्होंने कहा कि हम अपनी तरफ से बात क्यों करें. अमित शाह के सामने सब बात हुई थी. इसलिए हम इसमें नहीं आ रहे हैं. महाराष्ट्र कभी दिल्ली के आगे नहीं झुकेगा. उद्धव ठाकरे, शरद पवार कोई नहीं झुकेगा. न्याय की लड़ाई जारी रहेगी.
  • बीजेपी नेताओं ने गुरुवार को राज्यपाल से मुलाकात की. हालांकि, इस दौरान बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा नहीं पेश किया. राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से भी मिलने के लिए गया.
  • शिवसेना ने अपने विधायकों को मुंबई के रंगशारदा होटल में रखा है. शिवसेना किसी भी तरह की खरीद-फरोख्त से बचने के फिराक में है.

ये भी पढ़ें-

फडणवीस सरकार के बचे हैं कुछ ही घंटे, बीजेपी के चहेते संभाजी भिड़े से भी नहीं खुली गठबंधन में पड़ी गांठ

महाराष्‍ट्र में 9 नवंबर तक नहीं बनी सरकार तो क्‍या करेंगे राज्‍यपाल? ये हैं विकल्‍प

शिवसेना के 9 कार्यकर्ता गिरफ्तार, IFFCO कंपनी के ऑफिस में की थी तोड़फोड़, जानें पूरा मामला