सिंचाई घोटाले में अजित पवार को क्लीन चिट मिलने की खबर महज़ अफवाह: एंटी करप्शन ब्यूरो

एसीबी के डीजी ने बताया कि जो जांच बंद हुई हैं वो रूटीन जांचें हैं.
Maharashtra: None of 9 inquiries on Ajit Pawar closed today, सिंचाई घोटाले में अजित पवार को क्लीन चिट मिलने की खबर महज़ अफवाह: एंटी करप्शन ब्यूरो

दो दिन पहले शपथ लेने वाले महाराष्ट्र उपमुख्यमंत्री अजित पवार को सिंचाई घोटाले में क्लीन चिट मिलने की खबरों को एंटी करप्शन ब्यूरो ने अफवाह बताया है. एसीबी ने कांग्रेस द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद इन खबरों का खंडन किया और कहा कि अजित पवार के खिलाफ कोई मामला बंद नहीं किया गया है.

एसीबी ने कहा कि सिंचाई घोटाले से जुड़े लगभग 3 हजार टेंडरों की जांच चल रही है. अगर कोर्ट जांच के आदेश दे या नए सबूत सामने आएं तो हम जांच करेंगे. एसीबी के डीजी परमबीर सिंह ने बताया कि ‘सिंचाई घोटालों से जुड़े तीन हजार टेंडरों की जांच हम कर रहे हैं. ये रोजमर्रा की जांच है जो बंद हुई है, जो जांच चल रही है वो जारी रहेंगी.’

बता दें कि अजित पवार सिंचाई घोटाले के आरोप के चलते एसीबी के शिकंजे में हैं. हाल ही में उनसे पूछताछ की गई थी. 2012 में यह घोटोला सामने आया था. आरोप लगा था कि महाराष्ट्र में 1999-2000 में कांग्रेस-एनसीपी की सरकार में 35 हजार करोड़ रुपए की अनियमितताएं सामने आई थीं.

ये भी पढ़ें:

Related Posts