कांग्रेस नेताओं के साथ उद्धव ठाकरे ने की मीटिंग, कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर हुई चर्चा

राष्ट्रपति शासन लगने के बावजूद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने हार नहीं मानी है. ये पार्टियां अभी भी सरकार बनाने की जुगत में लगी हुई हैं.

महाराष्ट्र में करीब तीन हफ्ते तक चले राजनीतिक उठापटक के बाद मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया. दिन में तेजी से बदलते घटनाक्रम में राज्यपाल बी.एस.कोश्यारी ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को राष्ट्रपति शासन लागू करने की सिफारिश भेजी. इस बीच शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने हार नहीं मानी है. ये पार्टियां अभी भी सरकार बनाने की जुगत में लगी हुई हैं.

Live Updates:

  • शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने आज कांग्रेस नेताओं से मुलाकात की. मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं से क्या बात हुई है, आपको कैसे बताऊं?

  • कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट ने कहा कि कल एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं की साथ में बैठक हुई. उसमें ये तय हुआ कि हम साथ फैसला करेंगे. शिवसेना को लेकर फैसला एक साथ करेंगे. आज हम उद्धव ठाकरे से मिले, कल के बाद आज एक सदिच्छा भेट है. अब एनसीपी और कांग्रेस फिर बैठक करेगी. इसके बाद शिवसेना से मुलाकात करेगी.
  • शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे कांग्रेस नेताओं के साथ मुंबई के एक होटल में मुलाकात कर रहे हैं. इस दौरान सरकार गठन पर बातचीत आगे बढ़ सकती है. उद्धव की ये मुलाकात कांग्रेस की कॉर्डिनेशन कमेटी से हो रही है. इसमें कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर बात बन सकती है.
  • शिवसेना एक तरफ जहां सरकार गठन को लेकर परेशान है. इसी बीच अब उनके विधायक नाराज हो गए हैं. मुम्बई के मालाड के द रिट्रीट होटल में ठहरे शिवसेना के विधायकों से मंगलवार को उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे ने मुलाकात की.
  • इस मुलाकात के बाद जब उन्हें पता चला कि विधायक नाराज हैं. तब आदित्य ठाकरे खुद इस होटल में ठहर गए. मंगलवार रात से ही आदित्य यहां रूके हैं और विधायकों को मना रहे हैं. विधायक अब तक सरकार नहीं बनने से नाराज हैं.
  • एनसीपी ने एक कार्टून के जरिए बीजेपी पर तंज कसा है.

maharashtra president rule government formation, कांग्रेस नेताओं के साथ उद्धव ठाकरे ने की मीटिंग, कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर हुई चर्चा

  • शिवसेना नेता संजय राउत बुधवार को मुबंई के लीलावती अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिए गए. इस दौरान उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र का अगला सीएम शिवसेना से ही होगा.

  • कांग्रेस नेता अविनाश पांडे ने बताया कि पिछले पांच दिनों से कांग्रेस विधायक जयपुर के एक रिजॉर्ट में रुके हुए थे. अब वो महाराष्ट्र के लिए रवाना हो रहे हैं.
  • उन्होंने कहा कि आलाकमान के दिए हुए निर्देश पर चर्चा करके कुछ प्रमुख निर्णय लिए गए हैं. महाराष्ट्र में सहयोग से सरकार बनाने की आवश्यकता है. सभी विधायकों के सुझावों को कांग्रेस की cwc में रखा गया.
  • कांग्रेस नेताओं ने शिवसेना नेता संजय राउत से लीलावती अस्पताल में मुलाकात की. राउत सोमवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती हुए थे.

  • एनसीपी नेता अजीत पवार ने कहा है कि राष्ट्रपति शासन लगने के बाद हम आगे की रणनीति पर बात करेंगे. शरद पवार समेत कुछ अन्य नेता अब संसद के सत्र के लिए दिल्ली जाएंगे. हमने 5-6 लोगों की कमेटी बनाई है, जो आगे की रणनीति पर काम करेगी.

  • अहमद पटेल मुंबई से दिल्ली जा रहे हैं. पटेल दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे. वह सोनिया से शरद पवार और उद्धव ठाकरे से हुई मुलाकात में के बारे में चर्चा करेंगे.
  • न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के बीच बीती रात मुंबई में एक मीटिंग हुई.

  • बीजेपी और शिवसेना में सुलह के संकेत मिल रहे हैं. सूत्रों की मानें तो शिवसेना की तरफ से राष्ट्रपति शासन के खिलाफ भी दूसरी अर्जी नहीं दाखिल की जा सकती है. साथ ही शिवसेना की ओर से तत्काल सुनवाई की अपील भी नहीं की जाएगी.
  • शिव सेना का कहना है कि राज्‍यपाल ये सब बीजेपी के इशारे पर कर रही है. शिवसेना का कहना है कि राज्‍यपाल ने पार्टी को सिर्फ 24 घंटे का समय दिया.
  • महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने पर शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. शिवसेना की ओर से राज्यपाल के द्वारा अधिक समय न दिए जाने के खिलाफ याचिका दायर की गई है.
  • शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी भाजपा महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए अनाधिकारिक माध्यमों से अभी भी संपर्क कर रही है.
  • ठाकरे ने कहा, “वे हर बार अस्पष्ट और अलग-अलग प्रस्ताव दे रहे हैं. लेकिन हमने कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ जाने का निर्णय लिया है.”
  • भाजपा नेती नारायण राणे ने कहा कि पार्टी ने उन्हें सरकार गठन के लिए भाजपा संग गठबंधन को फिर से जिंदा करने पर शिवसेना को समझाने के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए लगा रखा है.
  • राणे ने कहा, “हम 145 सदस्यों के एक सामान्य बहुमत की कोशिश में लगे हुए हैं, हमारा यही लक्ष्य है और हम राज्यपाल को उसे सौंपेंगे. मुझे नहीं लगता कि शिवसेना राकांपा-कांग्रेस के साथ जाएगी. वे शिवसेना को मोहरा बना रहे हैं.”
  • महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता देवेंद्र फडणवीस ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने को मंगलवार को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि जनता ने महायुति(महागठबंधन) के पक्ष में स्पष्ट जनादेश दिया था, मगर सरकार न बनने के कारण राष्ट्रपति शासन लगा, जो दुर्भाग्यपूर्ण है.
  • फडणवीस ने राज्य में राजनीतिक अस्थिरता से होने वाले खतरों की तरफ आगाह किया. उन्होंने कहा कि राजनीतिक अस्थिरता से निवेश पर बुरा असर पड़ सकता है. सरकार के दैनिक कामकाज पर असर पड़ने से जनता को परेशानी हो सकती है.
  • केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया और विधानसभा निलंबित है. उन्होंने कहा कि बीते महीने विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के 20 दिन बाद भी राजनीतिक दल सरकार बनाने में असफल रहे हैं, जिसके बाद राष्ट्रपति शासन लागू किया गया.
  • गृह मंत्रालय की प्रवक्ता वसुधा गुप्ता ने एक बयान में कहा, “राज्यपाल (बी.एस.कोश्यारी) ने दोपहर में सभी प्रयासों के बाद भी कोई सफलता नहीं मिलने की बात कहते हुए राष्ट्रपति से सिफारिश की.”
  • 288 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी और चुनावों में 105 सीटों पर जीत दर्ज की. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित हुए थे.

ये भी पढ़ें-

महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन लगने के बाद भी सरकार बना सकते हैं BJP, शिवसेना, कांग्रेस, NCP

महाराष्‍ट्र: राष्‍ट्रपति शासन लगते ही BJP का यू-टर्न, राणे बोले- हम बनाएंगे सरकार

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने से हुआ वोटर्स का घोर अपमान : राज ठाकरे