गुरुवार को शपथ लेंगे उद्धव ठाकरे, बहुमत साबित करने को 3 दिसंबर तक का वक्‍त

28 नवंबर को शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह होगा. महाराष्ट्र राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने गठबंधन को बहुमत साबित करने के लिए 7 दिन का समय दिया है.
Udhhav Thackeray oath, गुरुवार को शपथ लेंगे उद्धव ठाकरे, बहुमत साबित करने को 3 दिसंबर तक का वक्‍त

महाराष्ट्र में सियासी घमासान के बीच मंगलवार को देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. वहीं उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में महाराष्ट्र सरकार बनेगी. एनसीपी कांग्रेस शिवसेना और अन्य दल के साथ निर्दलीय विधायकों ने उद्धव ठाकरे को विधायक दल का नेता चुना है.

गुरूवार (28 नवंबर) को शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह होगा. महाराष्ट्र राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने गठबंधन को बहुमत साबित करने के लिए 7 दिन का समय दिया है. यानि कि 3 दिसंबर को बहुमत साबित करना होगा.

Udhhav Thackeray oath, गुरुवार को शपथ लेंगे उद्धव ठाकरे, बहुमत साबित करने को 3 दिसंबर तक का वक्‍त

Udhhav Thackeray oath, गुरुवार को शपथ लेंगे उद्धव ठाकरे, बहुमत साबित करने को 3 दिसंबर तक का वक्‍त

वहीं बीजेपी विधायक कालिदास कोलंबकर को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मंगलवार को प्रोटेम स्पीकर की शपथ दिलाई है. अब कालिदास कोलंबकर विधायकों को शपथ दिलाएंगे.

कालिदास कोलंबकर कांग्रेस के दिग्गज नेता रह चुके हैं लेकिन महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया था. ये कांग्रेस के लिए किसी झटके से कम नहीं था. कोलंबकर दक्षिण मध्य मुंबई की वडाला विधानसभा से 8वीं बार विधायक चुने गए हैं.

2014 में कांग्रेस के टिकट पर कोलंबकर वडाला से ही चुनाव लड़ रहे थे. मोदी लहर के बावजूद बीजेपी के उम्मीदवार मिहिर कोटेचा को मात्र 800 वोटों से हराकर विधायक बने थे. उसके पहले 2009 में भी कोलंबकर वडाला से चुनाव जीत चुके हैं.

ये भी पढ़ें:

दो पवार, दो धोखे और महाराष्‍ट्र में तीन दिन में दो ‘सरकार’

महाराष्ट्र के मैन ऑफ द मैच बनकर उभरे शरद पवार, पढ़ें कैसा है तिलिस्म

Related Posts