महाराष्ट्र के सभी स्कूलों में मराठी अनिवार्य, देवेंद्र फडणवीस ने कानून को बताया लचर

आज मराठी भाषा दिवस पर महाराष्ट्र विधानसभा में मराठी भाषा को सभी स्कूलों में अनिवार्य किए जाने का कानून पास किया गया जिसे सभी पार्टियों ने समर्थन दिया है.
Marathi language mandatory, महाराष्ट्र के सभी स्कूलों में मराठी अनिवार्य, देवेंद्र फडणवीस ने कानून को बताया लचर

महाराष्ट्र सरकार की तरफ से एक बड़ा कानून बनाया गया जिस पर सभी पार्टियों ने समर्थन किया. कानून के मुताबिक मराठी भाषा अब महाराष्ट्र में पहली भाषा होगी. सभी स्कूल चाहे वो इंग्लिश मीडियम के हों या दूसरी भाषा के सभी में मराठी पढ़ाना अनिवार्य होगा. ऐसा नहीं करने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी. नियम का पालन नहीं करने पर एक लाख रुपए तक का दंड लगाया जाएगा.

सीएम उद्धव ठाकरे ने मराठी भाषा पर सदन में बोलते हुए कहा कि मराठी पर अंग्रेजी भाषा का अतिक्रमण हुआ है, ये बात सच है. मेरे लड़के अंग्रेज़ी भाषा में भले ही पढ़े हैं लेकिन वह मराठी भाषा भी अच्छी बोलते हैं. मराठी भाषा को बचाने का काम सभी को करना होगा.

आज मराठी भाषा दिवस पर महाराष्ट्र विधानसभा में मराठी भाषा को सभी स्कूलों में अनिवार्य किए जाने का कानून पास किया गया जिसे सभी पार्टियों ने समर्थन दिया है.

वहीं विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने इस कानून को लचर बताया है. उनका कहना था कि, इस कानून में सुधार करने की जरूरत है ताकि मराठी भाषा को कठोरता से अनिवार्य किया जा सके.

ये भी पढ़ें : ‘दंगे तो जिंदगी का हिस्सा हैं पहले भी होते रहे हैं’- दिल्ली हिंसा पर बोले हरियाणा के मंत्री

Related Posts