कोरोना संक्रमण का नाटक कर गर्लफ्रेंड के साथ छिपा जालसाज, पुलिस ने कड़ी मेहनत से निकाला बाहर

इंस्पेक्टर संजय धूमेल ने कहा कि इस केस में हमें पहली लीड एयर ओली सीसीटीवी (CCTV) फुटेज से मिली, जब हमने मिश्रा को कार में एक महिला के साथ यात्रा करते देखा. बाद में हमें पता चला कि मिश्रा इंदौर (Indore) में रह रहा था.

कोरोना (Corona) संक्रमण का नाटक रचकर पत्नी और परिवार को छोड़कर गर्लफ्रेंड से साथ इंदौर भागे एक शख्स को पुलिस ने ढूंढ निकाला. आरोपी ने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ रहने के लिए अपनी पत्नी और परिवार से झूठ बोला कि उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है और वह इस संक्रमण से नहीं बच पाएगा.

पुलिस के मुताबिक 24 जून को मनीष मिश्रा (Manish Mishra) नाम का शख्स जो जेएनपीटी नवी मुंबई में सुपरवाइजर का काम रहा था, उसने अपनी पत्नी को फोन कर बताया कि उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) आई है. उसने फोन पर बताया कि वह संक्रमण से नहीं बचेगा और फोन बंद कर दिया.

शुरुआती जांच में पता चला कि मनीष झूठा है

पुलिस ने आगे कहा कि परिवार ने एक दिन बाद मिश्रा के घर नहीं लौटने पर उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने एक टीम का गठन किया और पता लगा कि मिश्रा की लास्ट लोकेशन वाशी थी. एक अधिकारी ने बताया कि जब हमारी टीम पहुंची तो हमें मोटरसाइकिल, चाबियां और उसका हेलमेट मिला.

अधिकारी ने बताया कि हमने मछुआरों की मदद से वाशी नाले की भी जांच की. उसका शव नहीं मिला. हम निश्चित थे कि वह जिंदा है और हमने आगे की जांच शुरू कर दी. हमने अन्य राज्यों में सीसीटीवी (CCTV) फुटेज और उसकी फोटो को जांच के लिए भेज दिया.

गर्लफ्रेंड के साथ इंदौर में छुपा था जालसाज

इंस्पेक्टर संजय धूमेल ने कहा कि इस केस में हमें पहली लीड एयर ओली सीसीटीवी फुटेज से मिली, जब हमने मिश्रा को कार में एक महिला के साथ यात्रा करते देखा. बाद में हमें पता चला कि मिश्रा इंदौर में रह रहा था. एक अधिकारी ने बताया कि हमें पता चला कि उसका एक्सट्रामैरिटल अफेयर था और अपनी गर्लफ्रेंड के साथ इंदौर में रह रहा था. हमने अपनी टीम को भेजा और नवी मुंबई वापस बुलाया.

Related Posts