सरकार गठन के 15 दिनों बाद महाराष्ट्र में बंटे मंत्रालय, जानें किसके हिस्से में गया कौन सा विभाग

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद शिवसेना के पास है, उन्होंने गृह मंत्रालय भी अपने पास ही रखा है.

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने बाद करीब एक महीने तक सियासी ड्रामा चला और फिर कांग्रेस-एनसीपी ने शिवसेना के साथ सरकार बनाई. सरकार बनने के बाद मंत्रियों ने शपथ तो ग्रहण कर ली लेकिन उन्हें मंत्रालय शपथ ग्रहण करने के 15 दिनों बाद आज यानी गुरुवार को मिले.

शिवसेना को मुख्यमंत्री पद के साथ-साथ गृह मंत्रालय मिला है. शिवसेना के एकनाथ सिंदे महाराष्ट्र के गृह मंत्री होंगे. इसी के साथ सिंदे को नगर विकास मंत्रालय, पर्यावरण, पीडब्लूडी, पर्यटन और संसदीय कार्य मंत्रालय भी मिला है. वहीं एनसीपी के छगन भुजबल को नगर विकास मंत्रालय, सामाजिक न्याय, जल संसाधन मंत्रालय और स्टेट एक्साइज की जिम्मेदारी मिली है.

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता बालासाहेब थोराट को राजस्व, स्कूल शिक्षा, पशुपालन और मत्स्य पालन विभाग मिला है. वहीं वित्त और योजना, आवास, खाद्य आपूर्ति और श्रम मंत्रालय एनसीपी के जयंत पाटिल को सौंपे गए हैं. मालूम हो कि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद को लेकर अपनी चुनाव पूर्व सहयोगी बीजेपी से गठबंधन खत्म कर लिया था.

बीजेपी से गठबंधन खत्म करने के बाद शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ हाथ मिला लिया था. इस गठबंधन को महा विकास अगाड़ी नाम दिया गया था. इस सरकार के गठन के बाद शिवसेना के उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की थी.

ये भी पढ़ें: बीजेपी जैसा मजबूत संगठन बनाएंगे अखिलेश, सपा में लागू हो सकता है 1 व्यक्ति 1 पद फॉर्मूला