महाराष्ट्र: बेटी को साथ लेकर पहुंचा किसान, उद्धव ठाकरे के आवास में घुसने की कोशिश की

किसान की पहचान देशमुख के रूप में हुई, जो रायगढ़ जिले के पनवेल से आया था. उसके पास कुछ कागजात थे. किसान ने बांद्रा (पूर्व) में स्थित 'मातोश्री' के बाहर हाई सिक्‍योरिटी वाली सड़क पर आकर अंदर जाने की कोशिश की.
Chief Minister Uddhav Thackeray Residence, महाराष्ट्र: बेटी को साथ लेकर पहुंचा किसान, उद्धव ठाकरे के आवास में घुसने की कोशिश की

मुंबई: महाराष्ट्र में रविवार सुबह एक किसान ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री में घुसने का प्रयास किया. सूत्रों के अनुसार, सुरक्षाकर्मियों के हाथ पैर उस वक्त फुल गए जब एक किसान ने सुरक्षा को तोड़ते हुए अपनी नाबालिग लड़की के साथ मुख्यमंत्री के निजी आवास ‘मातोश्री’ में दाखिल होने की कोशिश की.

किसान की पहचान देशमुख के रूप में हुई, जो रायगढ़ जिले के पनवेल से आया था. उसके पास कुछ कागजात थे. किसान ने बांद्रा (पूर्व) में स्थित ‘मातोश्री’ के बाहर हाई सिक्‍योरिटी वाली सड़क पर आकर अंदर जाने की कोशिश की.

जब देशमुख और उसकी आठ साल की बेटी ने अंदर जाने की कोशिश की तो पुलिस टीम ने उसे रोक दिया. देशमुख ने पुलिस का प्रतिरोध किया और कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री से मिलना है, चाहे पुलिस उन्हें गोली क्यों न मार दे.

हालांकि, इसके बाद पुलिस उन्हें पकड़कर थाने ले गई. जब यह खबर छनकर मातोश्री के अंदर पहुंची तो उद्धव ठाकरे और पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने तुरंत पुलिस को निर्देश दिया कि देशमुख और उनकी बेटी को रिहा किया जाए और उनकी शिकायतों का ब्योरा लिया जाए.

इसके बाद देशमुख और उसकी बेटी को रिहाकर दिया गया. मीडियाकर्मियों से उन्होंने दावा किया कि वह पिछले आठ सालों से खेती के कर्ज में डूबा हुआ है और मुख्यमंत्री से अपनी दुर्दशा को उजागर करना चाहता है.

सूत्रों के अनुसार, 28 नवंबर को राज्य का मुख्यमंत्री बनने के बाद से ठाकरे फिलहाल अपने निजी आवास में ही रह रहे हैं और जल्द ही वह कुछ हफ्तों के भीतर दक्षिण मुंबई के मालाबार हिल स्थित मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास ‘वर्षा’ में रहने के लिए जाएंगे.

Related Posts